Home » राजनीति » sharad pawar message to those who saying muslims to go Pakistan
 

मुस्लिमों को बात-बात पर पाकिस्तान भेजने वाले नेताओं को शरद पवार ने दिया ऐसा जवाब..

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2018, 12:34 IST

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि जो लोग मुस्लिमों से ‘पाकिस्तान जाओ’ कहते रहते हैं वे पाकिस्तान और भारत दोनों के बारे में अज्ञान हैं. पूर्व केन्द्रीय मंत्री शरद पवार ने यह बात वरिष्ठ पत्रकार संजय अवाते द्वारा लिखित पुस्तक ‘वी द चेंज’ के विमोचन के मौके पर बोली. 

शरद पवार ने उन नेताओं को सख्त लहजे में कड़ा संदेश देते हुए कहा कि जब अल्पसंख्यक समुदाय का कोई व्यक्ति अपनी राय जाहिर करता है और अगर वह राय कुछ लोगों को पसंद नहीं आती है तो उस व्यक्ति से पाकिस्तान जाने के लिए कहा जाता है. उससे कहा जाता है कि उसे इस देश में रहने का कोई हक नहीं है. जो कहते रहते हैं कि ‘पाकिस्तान जाओ’, ऐसे लोगों को पाकिस्तान या भारत के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

पढ़ें- आरक्षण पर नितिन गडकरी बोले- जब नौकरी ही नहीं है तो लेकर क्या करोगे

उन्होंने कहा कि उन लोगों को जानना चाहिए कि पाकिस्तान क्या है? पाकिस्तान विभाजन से पहले भारत का हिस्सा था. जो लोग उस वक्त थे, सभी भारतीय थे उस वक्त. मगर विभाजन के दौरान दोनों तरफ के लोग इधर-उधर गये. उन्होंने कहा कि जब मैं आईसीसी का प्रेसीडेंट था, तब कई बार मुझे पाकिस्तान जाने का मौका मिला.

पढ़ें- सरकार के पिटारे में हैं 24 लाख सरकारी नौकरियां फिर क्यों नहीं मिल रहा युवाओं को रोजगार

इसके अलावा उन्होंने आरक्षण पर भी अपनी राय व्यक्त की. पवार ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार को मराठा समुदाय की आरक्षण की मांग पर फैसला करने के साथ वर्तमान आरक्षण में छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि एससी-एसटी और ओबीसी समुदाय के आरक्षण को नहीं छुआ जाना चाहिए.

First published: 5 August 2018, 12:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी