Home » राजनीति » Sharad Yadav: If Kashmir unrest will not under control, then may be Jinnah thought like right
 

शरद यादव: कश्मीर के हालात नहीं सुधरे तो जिन्ना सही साबित होंगे

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 May 2017, 14:13 IST
Sharad Yadav

समाजवादी नेता एवं चिंतक मधु लिमये की जयंती पर आयोजित एक समारोह में विपक्षी दलों के नेताओं ने एक स्वर में मोदी सरकार की नीतियों की आलोचना करते हुए आज कहा कि यदि कश्मीर के हालात पर काबू नहीं पाया गया तो पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना सही साबित हो जाएंगे.

जनता दल यूनाइटेड के शरद यादव ने समाजवादी नेता एवं चिंतक मधु लिमये की जयंती पर यहां आयोजित संगोष्ठी में कहा कि पीडीपी -भाजपा गठबंधन के एजेंडा फॉर अलायंस में हुर्रियत समेत सभी पक्षों से बातचीत करने की बात कही गयी है.

उन्होंने कहा कि हाल में उपचुनाव से पता लगा है कि वहां की जनता ने संविधान से किनारा कर लिया है. शरद यादव ने कश्मीर के हालात पर चिंता जताते हुए कहा कि देश की एकता और अखंडता के लिए वह सबसे बडी चुनौती बन गया है. यदि वहां के हालात नहीं सुधरे तो जिन्ना सही साबित होंगे.

माकपा नेता सीताराम येचुरी ने कश्मीर में भारतीय जवानों के शवों के साथ हुए बर्ताव को गंभीर बताते हुए कहा कि कश्मीर में सरकार की नीति विफल साबित हुई है.

वहीं भाकपा के अतुल कुमार अंजान ने भाजपा के ‘एक राष्ट्र ,एक निशान और एक विधान ’ के नारे पर तंज कसते हुए कहा कि पहले वह पीडीपी को राष्ट्रविरोधी बताती थी और अब उसी के साथ मिलकर सरकार बना ली.

First published: 2 May 2017, 14:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी