Home » राजनीति » Supreme Court rejects Congress plea to refuses stay EC notification on NOTA in Gujarat Rajya Sabha polls.
 

कांग्रेस को झटका, सुप्रीम कोर्ट का NOTA पर रोक से इनकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 August 2017, 15:58 IST

सर्वोच्च न्यायालय ने गुजरात में आगामी राज्यसभा चुनावों में नोटा के विकल्प के इस्तेमाल के निर्वाचन आयोग की अधिसूचना पर रोक लगाने से गुरुवार को इनकार कर दिया है. न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति अमिताव राय और न्यायमूर्ति एएम खानविल्कर की सदस्यता वाली पीठ ने निर्वाचन आयोग को अधिसूचना की संवैधानिक वैधता की समीक्षा करने के लिए नोटिस जारी किया है.

पीठ ने कहा, "आप (याचिकाकर्ता) इतनी देर से अदालत क्यों आए. आप उस समय क्यों आए हैं, जब चुनाव करीब है." गुजरात विधानसभा में कांग्रेस सचेतक शैलेश मनुभाई परमार ने आठ अगस्त को होने वाले चुनाव में नोटा के इस्तेमाल संबंधी अधिसूचना रद्द करने की मांग के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. 

गौरतलब है कि गुजरात में कांग्रेस अपने विधायकों की बगावत से भी जूझ रही है. छह विधायकों ने हाल ही में भाजपा का दामन थाम लिया है, जिससे सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल के लिए राज्यसभा चुनाव में मुश्किल खड़ी हो गई है. विधायकों के भाजपा में शामिल होने के बाद 182 सदस्यीय गुजरात विधानसभा में कांग्रेस विधायकों की संख्या 51 रह गई.

राज्य में भाजपा के 121 विधायक हैं. अमित शाह और स्मृति ईरानी के अलावा बलवंत सिंह राजपूत ने तीसरी सीट के लिए भाजपा से पर्चा भरा है. कांग्रेस ने अपने 42 विधायकों को बेंगलुरु के एक रिजॉर्ट में रखा है. भाजपा पर कांग्रेस ने खरीद-फरोख्त के जरिए विधायकों को तोड़ने का आरोप लगाया है.

First published: 3 August 2017, 15:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी