Home » राजनीति » TamilNadu: Karunanidhi death MK Stalin elected as President of DMK at party headquarters in Chennai
 

तमिलनाडु: करुणानिधि के बाद DMK में नई पीढ़ी की शुरुआत, बेटे MK स्टालिन चुने गए अध्यक्ष

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 August 2018, 11:18 IST
(ANI Kalaignar TV)

DMK अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री करुणानिधि के निधन के बाद उनके बेटे और पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन को आज(28 अगस्त) को आधिकारिक तौर पर पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष घोषित कर दिया गया है.

पार्टी के महासचिव के. अंबाजगन ने बताया कि एमके स्टालिन आम सहमति से डीएमके के अध्यक्ष चुने गये हैं. मंगलवार को पार्टी मुख्यालय पर डीएमके के सामान्य परिषद की बैठक हुई जिसमें उनके राज्याभिषेक का फैसला हुआ. इससे पहले पार्टी मुख्यालय पहुंचकर स्टालिन ने अध्यक्ष पद के लिए अपना नामांकन भरा था.

 

बता दें कि करुणानिधि के बाद पार्टी के दूसरे अध्यक्ष के तौर पर स्टालिन की राह आसान मानी जा रही थी क्योंकि पार्टी के 65 जिलों के सचिवों ने उनका नाम प्रस्तावित किया था और पद के लिए अकेले उन्होंने नामांकन पत्र दाखिल किया था. अपने पिता के बाद स्टालिन पार्टी के दूसरे अध्यक्ष बने हैं.

पिछले 49 सालों से करुणानिधि इस पद पर काबिज थे. वहीं स्टालिन ने जनवरी 2017 में पिता का स्वास्थ्य खराब होने के बाद पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष के तौर पर पदभार संभाला था. इस महीने की शुरुआत में पिता की मौत के बाद उनका पार्टी सुप्रीमो बनना जरूरी हो गया था. पिता की मौत के बाद एमके स्टालिन और उनके भाई एमके अलागिरी के बीच लगातार जुबानी जंग जारी है.

दरअसल, अलागिरी पार्टी में शामिल होने की ताक में हैं. बता दें कि साल 2014 में पूर्व डीएमके मंत्री को करुणानिधि ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने और अपमानजनक टिप्पणी करने की वजह से पार्टी से निष्कासित कर दिया था. इसके बाद उन्होंने एमके स्टालिन को अपने राजनीतिक उत्तराधिकारी के रूप में नामित किया था और करुणानिधि की तबीयत खराब होने की वजह से स्टालिन को कार्यकारी अध्यक्ष बनाकर शक्तियां हस्तांतरित कर दी गई थीं.

First published: 28 August 2018, 11:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी