Home » राजनीति » Tampering of EVMs plea: Supreme Court has issued a notice to Election Commission
 

EVM छेड़छाड़ मामला: सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से मांगा जवाब

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 March 2017, 15:05 IST

ईवीएम में गड़बड़ी के आरोपों पर सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को नोटिस जारी किया है. सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को ईवीएम से गड़बड़ी या छेड़छाड़ के मामले में चुनाव आयोग से चार हफ्ते में जवाब देने को कहा है. दरअसल 11 मार्च को पांच राज्यों के चुनावी नतीजे आने के बाद सबसे पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने ईवीएम को मैनेज करने का आरोप लगाया था. 

इसके ठीक बाद आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी ईवीएम को कठघरे में खड़ा करते हुए पंजाब चुनाव में आप के वोट शिरोमणि अकाली दल को ट्रांसफर होने का आरोप लगाया. 

FIR दर्ज करने की दलील खारिज

मायावती ने तो इसे लोकतंत्र की हत्या करार देते हुए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों में गड़बड़ी का आरोप लगाया है. यही नहीं उन्होंने विदेशी एक्सपर्ट से ईवीएम की जांच कराने की भी मांग की है. सुप्रीम कोर्ट ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की याचिकाकर्ता की दलील को खारिज कर दिया.

अर्जी में कहा गया था कि किसी भी ईवीएम को जब्त करके उसकी जांच की जाए. सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि इसकी कोई ज़रूरत नहीं है और अदालत ने सिर्फ़ चुनाव आयोग से जवाब तलब किया है.

सुप्रीम कोर्ट में वकील एमएल शर्मा ने अपनी अर्जी में कहा है कि ईवीएम में कई खामियां हैं. जिससे निष्पक्ष चुनाव और नतीजे आना मुमकिन नहीं है. हाल ही में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने दिल्ली नगर निगम के चुनाव ईवीएम के बजाए बैलट पेपर से कराने की मांग की थी. अगले महीने दिल्ली में एमसीडी के चुनाव होने वाले हैं.

First published: 24 March 2017, 15:05 IST
 
अगली कहानी