Home » राजनीति » triple talaq: bjp president amit shah congrats to Muslim women and thanks to pm modi for his approach in supreme court.
 

अमित शाह: तीन तलाक़ से आज़ादी न्यू इंडिया की तरफ बढ़ते क़दम

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 August 2017, 14:06 IST

सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक पर ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए छह महीने की रोक लगा दी है. इसके अलावा कोर्ट ने केंद्र सरकार को आदेश दिया है कि वो तीन तलाक के खिलाफ संसद में कानून लाए.

सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की संवैधानिक पीठ ने ये 3-2 से ये फैसला सुनाया. सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस जेएस खेहर और जस्टिस अब्दुल नज़ीर ने इससे अलग रुख ज़ाहिर किया. सुप्रीम कोर्ट के दो जजों ने केंद्र सरकार से तीन तलाक़ पर संसद से कानून बनाने को कहा है.

कोर्ट के फैसले के बाद भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने देश की मुस्लिम महिलाओं को बधाई दी है. उन्होंने ट्वीट किया, "ये ऐतिहासिक फैसला नये युग की शुरुआत है. ये मुस्लिम महिलाओं के समानता के अधिकार और संवैधानिक अधिकार की विजय है."

अमित शाह ने पीएम मोदी को भी सरकार के कोर्ट में रुख के लिए बधाइयां दी हैं. उन्होंने कहा कि ये न्यू इंडिया की तरफ बढ़ते कदम हैं. उन्होंने कहा कि मैं इस फैसले का स्वागत और अभिनंदन करता हूं.

गौरतलब है कि इसी साल मई के महीने में 5 जजों की संवैधानिक बेंच ने 6 दिनों तक इस मुद्दे पर ऐतिहासिक सुनवाई की थी. सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई पूरी करने के बाद 18 मई को इस पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. 

कोर्ट में केंद्र सरकार ने तीन तलाक के खिलाफ अपना पक्ष रखा और मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने भी अपनी दलीलें पेश की. ट्रिपल तलाक को लेकर मुस्लिम महिलाओं की ओर से 7 याचिकाएं दायर की गईं. इनमें अलग से दायर की गई 5 रिट पिटीशन भी हैं. इनमें दावा किया गया है कि तीन तलाक असंवैधानिक है.

First published: 22 August 2017, 14:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी