Home » राजनीति » Uddhav Thackeray demands 'Bharat Ratna' for Veer Savarkar
 

उद्धव ठाकरे: 'हिंदू राष्ट्र' के समर्थक सावरकर को मिले भारत रत्न

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 April 2017, 12:19 IST

शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने स्वतंत्रता आंदोलन से जुड़े रहे विनायक दामोदर सावरकर को भारत रत्न अवॉर्ड दिए जाने की मांग की है. भारत रत्न देश का सबसे बड़ा नागरिक सम्मान है. 

उद्धव ने महाराष्ट्र में विपक्ष के कई नेताओं के समर्थन का दावा करते हुए इस मुद्दे पर कहा, ""हम सभी एक साथ और विपक्ष के कुछ नेता चाहते हैं कि सावरकर को देश का सर्वोच्च सम्मान दिया जाए. हमें इसको एक हक़ीक़त बनाने के लिए प्रयास करना चाहिए." 

'मुंबई में बने स्मारक'

सावरकर के साहित्य पर तीन दिवसीय कार्यक्रम के समापन समारोह में उद्धव ठाकरे ने यह भी मांग की कि अंडमान निकोबार की जिस सेलुलर जेल में ब्रिटिश राज के दौरान उन्हें कैद किया गया था, उसका स्मारक मुंबई में बनना चाहिए.

ठाकर ने इस दौरान यह भी कहा कि हर किसी को हिंदू राष्ट्र और स्वतंत्रता संग्राम के दौरान सावरकर के बारे में जागरूक होना चाहिए. गौरतलब है कि शिवसेना लंबे अरसे से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से महाराष्ट्र के स्वतंत्रता सेनानी सावरकर को भारत रत्न से नवाजे जाने की मांग कर रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस सिलसिले में पार्टी ने एक खत भी लिखा था.  

गांधी की हत्या में नाम

राष्ट्रीय स्वतंत्रता संग्राम में योगदान के अलावा सावरकर को हिंदू समाज में जाति प्रथा के खिलाफ आवाज उठाने के लिए जाना जाता है. हालांकि 30 जनवरी 1948 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या में भी उनका नाम आया था. 

गांधी जी की हत्या के मामले में आठ आरोपी थे- नाथूराम गोडसे और उनके भाई गोपाल गोडसे, नारायण आप्टे, विष्णु करकरे, मदनलाल पाहवा, शंकर किष्टैया, विनायक दामोदर सावरकर और दत्तात्रेय परचुरे. ये सभी लोग आरएसएस या हिंदू महासभा या हिंदू राष्ट्र दल से जुडे हुए थे. गांधी जी की हत्या के बाद हिंदू महासभा और आरएसएस पर प्रतिबंध भी लगा था. हालांकि सावरकर पर आरोप साबित नहीं हो सके थे, जिसके बाद उन्हें बरी कर दिया गया.

First published: 24 April 2017, 12:19 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी