Home » राजनीति » Union Minister Mukhtar A Naqvi's U turn on Alwar incident in Parliament
 

अलवर पर नक़वी का यू टर्न- क़ातिल को हिंदू-मुसलमान की नज़र से मत देखिए

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 April 2017, 13:52 IST
(फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने अलवर कांड पर अपने पुराने बयान से यू टर्न लिया है. संसद में इस मुद्दे पर बयान देते हुए मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, "अपराधी, कातिल, गुंडा, बदमाश उसको हिंदू-मुसलमान की नजर से मत देखिए. अपराधी अपराधी है."

गौरतलब है कि नकवी का ये बयान संसद में ही दिए गए उनके पुराने बयान से मेल नहीं खाता है. संसदीय कार्य राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने गुरुवार को राज्यसभा में कहा, "जिस तरह का मामला मीडिया में बताया जा रहा है, ऐसा कुछ भी अलवर में नहीं हुआ."

नकवी ने राज्यसभा में कहा, "जिस राज्य के बारे में जो बात कही जा रही है, जिस तरह उसे पेश किया जा रहा है, उस तरह की कोई भी घटना उस जमीन पर नहीं हुई है. जिस मीडिया रिपोर्ट की बात की जा रही है, उसकी राजस्थान सरकार ने पहले ही निंदा की है."

अलवर कांड में अब तक क्या हुआ?

इस मामले में राजस्थान पुलिस का कहना है कि हरियाणा के नूंह जिले के जयसिंहपुर गांव के पहलू खान और उनके साथी पिछले दिनों पांच गाड़ियों में गायों को लेकर अपने घर जा रहे थे. अलवर जिले के बहरोड़ में कथित गोरक्षकों ने पहलू समेत पांच लोगों को बेरहमी से पीटा था. ये पांच लोग जयपुर के पशु मेले से गाय खरीद कर लौट रहे थे.

उनके पास गायों को खरीदने के वैध दस्तावेज भी थे. उन्होंने एक गाय और एक भैंस भी खरीदी थी. वे उन दो गाड़ियों के पीछे चल रहे थे, जिन्हें विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के कथित गोक्षकों ने जबरन रोका और हमला किया. पहलू खान की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी. पुलिस ने इस मामले में दो सौ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. 

 

राजस्थान पत्रिका

छात्रसंघ अध्यक्ष समेत तीन गिरफ्तार

अलवर पुलिस ने इस मामले में अब तक बहरोड़ कॉलेज छात्रसंघ अध्यक्ष विपन यादव, रविन्द्र यादव और कालू राम को गिरफ्तार किया है. तीनों आरोपियों को अलवर की अदालत ने एक दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया.

पुलिस ने आईपीसी सेक्शन 143 (गैरकानूनी रूप से इकट्ठा होने), 323 (जानबूझकर नुकसान पहुंचाने, 341 (गलत रोकने), 147(संपत्ति का नुकसान), 308 (गैर इरादतन हत्या)और 379 (चोरी) के तहत गोरक्षकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है. पहलू खान की मौत के बाद सेक्शन 302 (हत्या) को भी मुकदमे में जोड़ा गया है.

वीडियो ग्रैब
First published: 7 April 2017, 13:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी