Home » राजनीति » union minister ram vilas paswan on opposition alliance congress jds sp bsp
 

मोदी के खिलाफ विपक्ष की एकजुटता पर बोले राम विलास पासवाल- उनके पास कोई नेता नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 June 2018, 8:27 IST

पिछले काफी चुनावों से संयुक्त विपक्ष मिलकर बीजेपी को पटखनी देने की कोशिश कर रहा है. जहां एक तरफ विपक्ष एकजुट होने की कोशिश कर रहा है वहीं मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री और एनडीए में उनके सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष राम विलास पासवान ने विपक्ष की एकजुटता पर सवाल उठाए हैंं.

एक कार्यक्रम में राची पहुंचे पासवान ने मोदी सरकार के चार साल के कामों को साझा किया. इस मौके पर उन्होंने विपक्ष के फॉर्मूले को सिरे से नकार दिया. रामविलास ने कहा कि विपक्ष कमजोर है, उनके पास नेता नहीं है. उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि विपक्ष मजबूत हो. उपचुनाव के नतीजे भले ही कुछ हों, लेकिन विपक्ष की एकता चलने वाली नहीं है. यह एकता कितने दिन तक चलेगी, यह देखना होगा.

इसके आगे पासवान ने कहा कि आम चुनाव होंगे तो सभी सीटों पर एसपी, बीएसपी, कांग्रेस के दावे होंगे. इन पार्टियों को उस समय ही सबको पता चल जाएगा. एक दल एक सीट पर विपक्षी एकजुटता कायम नहीं रह सकती.

बता दें कि 31 मई को को उत्तर प्रदेश की बहुचर्चित लोकसभा सीट कैराना समेत देश के 10 राज्यों की 4 लोकसभा और 10 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनावों के नतीजे घोषित हुए. इन उपचुनावों में एक तरफ जहां विपक्षी पार्टियों को जीत हासिल हुई वहीं भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा. भाजपा सिर्फ दो सीटों पर जीत हासिल कर पाई, जबकि अधिकतर जगहों उसे हार का मुंह देखना पड़ा.

पढ़ें- हार के बाद BJP को लगा विपक्ष का रोग, फड़णवीस बोले- खराब EVM ने उपचुनाव हराया

इन चुनावों के बाद राज्यसभा में उपसभापति का चुनाव बीजेपी और विपक्ष के लिए अगला युद्ध का मैदान होगा. कांग्रेस एक बार फिर से राज्यसभा में उपसभापति पद के लिए मानसून सत्र में होने जा रहे चुनाव में बीजेपी को पटखनी देने के लिए फील्डिंग सजाने में जुट गई है.

First published: 2 June 2018, 8:27 IST
 
अगली कहानी