Home » राजनीति » Union minister Uma bharti says we are not lord rama to make dalit people life better
 

उमा भारती: जब दलित हमारे घर आकर साथ खाना खाएंगे तब हम पवित्र होंगे

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 May 2018, 12:33 IST

दलित मुद्दों पर घिरी भारतीय जनता पार्टी अब हर तरह से दलितों को साधने में लगी हुई है. प्रधानमंत्री मोदी से लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी भी इसी कवायद में जुटे हुए हैं. यूपी में मंत्री, सांसद, विधायक अंबेडकर गांवों में जा रहे हैं और दलित घरों में खाना खाने के बाद चौपाल लगा कर समस्याएं सुन रहे हैं.

ये भी पढ़ें- योगी के मंत्री ने दलित के घर जाकर खाया होटल से ऑर्डर किया हुआ खाना

केंद्र के मंत्री भी इसी क्रम में दलितों को अपने साथ जोड़ने में लगे हुए हैं. हालांकि कई बातों और चीजों पर विवाद से जुड़ी खबरें भी लगातार सामने आ रही हैं. इस मामले में अब बीजेपी की नेता और केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने इस मामले पर एक बयान दिया है.

उन्होंने कहा है, "हम भगवान राम नहीं कि दलितों के साथ भोजन करेंगे तो वो धन्य हो जाएंगे. जब दलित हमारे घर आकर, साथ बैठ कर भोजन करेंगे तब हम पवित्र हो जाएंगे. दलित को जब मैं अपने घर में अपने हाथों से खाना परोसूंगी तब मेरा घर धन्य हो जाएगा."

ये भी पढ़ें- गोरखपुर हादसा: बेटी के पहले बर्थडे के दिन डॉ. कफील भेजे गए थे जेल, अब नहीं पहचानती बेटी, कुसूरवार कौन?

झांसी में उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप ने कहा था कि जैसे भगवान राम ने बेर खाकर शबरी को धन्य किया था वैसे ही बीजेपी के नेता दलितों के घर जाकर उन्हें धन्य करते हैं. हाल ही में योगी के मंत्री सुरेश राणा भी एक दलित के घर खाना खाने तो पहुंचे लेकिन खाना होटल से मंगवाया गया.

First published: 2 May 2018, 12:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी