Home » राजनीति » up cm yogi adityanath remarks on namaz and krishna janmashtmi.
 

योगी आदित्यनाथ: सड़क पर नमाज़ नहीं रोक सकते, तो थाने में जन्माष्टमी क्यों रोकें

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 August 2017, 12:28 IST

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने जन्माष्टमी और नमाज़ को लेकर बड़ा बयान दिया है. ये बयान उन्होंने लखनऊ में केजीएमयू (किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी) के साइंटिफिक कन्वेंशन सेंटर में एक पत्रिका के लॉन्च के दौरान दिया. सीएम योगी बुधवार को आरएसएस की केशव संवाद पत्रिका के विशेषांक का लोकार्पण करने पहुंचे थे.

सीएम योगी ने ने कहा है, कि अगर ईद के दिन सड़क पर नमाज पढ़ने पर रोक नहीं लग सकती तो थानों में जन्माष्टमी मनाने पर भी रोक नहीं लग सकती. उन्होंने पिछली समाजवादी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, सभी धर्मों को अपने त्योहार को मनाने की आजादी है, लेकिन खुद को यदुवंशी कहने वाली समाजवादी पार्टी के लोगों ने पुलिस स्टेशन और पुलिस लाइंस में जन्माष्टमी के आयोजनों पर रोक लगाई थी.

योगी ने कांवड़ यात्रा का पर कहा, ''कांवड़ यात्रा के दौरान अधिकारियों ने मुझे बताया कि डीजे और म्यूजिक सिस्टम के इस्तेमाल पर बैन है. मैंने कहा कि ये कांवड़ यात्रा है या शव यात्रा? अरे कांवड़ यात्रा में बाजे नहीं बजेंगे, डमरू नहीं बजेगा, ढोल नहीं बजेगा, चिमटे नहीं बजेंगे, लोग नाचेंगे नहीं, माइक नहीं बजेगा, तो वो यात्रा कांवड़ यात्रा कैसे होगी?"

उन्होंने कहा, "यूपी के अंदर कांवड़ के दौरान लाउडस्पीकर बजाने पर कोई प्रतिबंध नहीं लगेगा. मैं आदेश देता हूं कि कांवड़ यात्रा के दौरान हेलीकॉप्टर से फूलों की बारिश होनी चाहिए."

First published: 17 August 2017, 12:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी