Home » राजनीति » Uttarakhand: CM Trivendra Singh Rawat again argument with women over pauri garhwal bus accindet
 

उत्तराखंड: त्रिवेंद्र रावत की एक और महिला ने की बेइज्जती, बोली- यहां से भागो वरना पत्थर मारूंगी

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 July 2018, 16:28 IST

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत एक और विवाद में उलझते नजर आ रहे हैं. शिक्षिका विवाद के बाद उनकी एक और महिला ने सरेआम बेइज्जती की. जिसका वीडियो वायरल हो रहा है. महिला सीएम रावत के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग करते दिखाई दे रही है.

दरअसल, एक दिन पहले पौढ़ी-गढ़वाल के धुमाकोट बस हादसे में 48 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी. इसी घटना की हालात का जायजा लेने मुख्यमंत्री रावत घटनास्थल पर पहुंचे थे. उनके पहुंचने के बाद मुख्यमंत्री को महिलाओं ने घेर लिया और उनके साथ अभद्रता करनी शुरू कर दी. 

पढ़ें- उत्तराखंड: सीएम त्रिवेंद्र रावत ने जनता दरबार को बनाया 'राज दरबार'

 

एक ग्रामीण महिला ने कड़े शब्दों का प्रयोग करते हुए सीएम को कहना शुरू कर दिया, "भागो यहां से वरना हम सब तुम्हें पत्थर से मारेंगे, फिर तुमको जो मर्ज़ी हो कर लेना, सिर्फ वोट मांगने के लिए आ जाते हैं, वैसे पूछते भी नहीं."

पढ़ें- अयोध्या विवाद: सुब्रमण्यम स्वामी को SC से तगड़ा झटका, याचिका पर जल्द सुनवाई से इनकार

इसके बाद नैनीताल ADM हरवीर सिंह, एडिशनल एसपी नैनीताल व सीओ पौड़ी ने विरोध बढ़ता देख अपनी टीम के साथ मुख्यमंत्री को उन महिलाओं के बीच से निकाला. 

बता दें कि कुछ दिन पहले अपने जनता दरबार में सीएम रावत ने एक महिला शिक्षक की बर्खास्तगी के आदेश दे दिए थे क्योंकि शिक्षिका ने अपने तबादले को लेकर मुख्यमंत्री के दरबार में आवाज उठाई थी. साथ ही उन्होंने शिक्षिका को हिरासत में लेने को भी कहा था. इसके बाद शिक्षिका ने सरेआम उन्हें चोर-उचक्का बोल दिया था.

पढें- उत्तराखंड: सरकारी स्कूल में पढ़ाने वाली CM त्रिवेंद्र रावत की पत्नी का 22 साल से नहीं हुआ ट्रांसफर

First published: 3 July 2018, 15:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी