Home » राजनीति » Varanasi: PM Narendra Modi missing posters in his parliamentary constituency
 

सुनिए पीएम मोदी जी...आपके लोकसभा क्षेत्र बनारस को है आपकी तलाश!

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 August 2017, 14:08 IST

'जाने वह कौन सा देश जहां तुम चले गए.' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में इस स्लोगन के साथ पोस्टर नजर आए हैं. इस पोस्टर में लिखा गया है कि वाराणसी सांसद लापता हैं.

पोस्टर में लाचार, बेबस और हताश काशीवासियों के संबोधन के साथ पीएम मोदी को लापता बताया गया है. अभी से साफ नहीं है कि पोस्टर के पीछे कौन है. वाराणसी पुलिस इस बात की छानबीन कर रही है कि पोस्टर किसने लगवाए हैं. इसके साथ ही इलाके की सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला जा रहा है. 

पढ़ें: कानपुर: मुरली मनोहर जोशी को ढूंढ़कर लाने वाले को एक घड़ा पानी इनाम

पोस्टर में पीएम मोदी की तस्वीर भी लगी हुई है. इसमें संदेश लिखा है कि आख़िरी बार उन्हें वाराणसी में वोट मांगने के दौरान देखा गया था. पोस्टर में लिखा है कि उसके बाद से पीएम मोदी अब तक लापता हैं. साथ ही कहा गया है कि लापता होने की वजह से मजबूरी में गुमशुदगी की एफआईआर दर्ज करानी पड़ी है.

बनारस के सिगरा शहीद उद्यान और कचहरी इलाके में ये पोस्टर देखने को मिले. इसके बाद नाइट ड्यूटी करने वाले पुलिस कर्मियों को ऐसे पोस्टर ढूंढने की जिम्मेदारी सौंपी गई. पुलिस की कई टीमों ने रात में ही इन पोस्टरों को हटाया.

नेताओं के संसदीय क्षेत्र में इस तरह के पोस्टर चस्पा किया जाना कोई नई बात नहीं है. हाल ही में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में भी उनके लापता होने के पोस्टर नज़र आए थे. कानपुर में भी पिछले साल भाजपा सांसद डॉक्टर मुरली मनोहर जोशी की गुमशुदगी के पोस्टर नजर आए थे.

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के भी लापता होने के पोस्टर लग चुके हैं. ये भी माना जा रहा है कि वाराणसी में पीएम मोदी के पोस्टर के पीछे किसी राजनीतिक पार्टी के कार्यकर्ता शामिल हो सकते हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी ने वाराणसी से जीत दर्ज की थी. उनके खिलाफ आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस से अजय राय चुनाव मैदान में उतरे थे.

First published: 19 August 2017, 13:50 IST
 
अगली कहानी