Home » राजनीति » vhp leader pravin togadia attacks on pm narendra modi and crime branch officer j k bhatt, amit shah, gujrat, sanjay joshi, rajasthan, rss
 

दिल्ली के 'राजनीतिक बॉस' के इशारे पर मेरे खिलाफ रचा जा रहा षड़यंत्र- प्रवीण तोगड़िया

आदित्य साहू | Updated on: 18 January 2018, 9:04 IST

एक दौर था जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगड़िया गहरे दोस्त हुआ करते थे और दोनों एक ही स्कूटर से आरएसएस कार्यकर्ताओं से मिलने जाया करते थे. लेकिन आज आलम यह है कि प्रवीण तोगड़िया पीएम मोदी पर उनके खिलाफ षड़यंत्र रचने का आरोप लगा रहे हैं.

प्रवीण तोगड़िया ने बुधवार को सीधे-सीधे पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा कि दिल्ली के राजनीतिक बॉस (यानि पीएम मोदी) के इशारे पर क्राइम ब्रांच के जॉइंट कमिश्नर जे. के. भट्ट उनके खिलाफ और वीएचपी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ षड्यंत्र कर रहे हैं. तोगड़िया ने कहा कि वह गुजरात से आने वाले पीएम से प्रार्थना करते हैं कि उनके खिलाफ षड्यंत्र करके लोकतंत्र की हत्या करने का प्रयास नहीं किया जाए.

तोगड़िया ने मांग की कि भट्ट और पीएम नरेंद्र मोदी के बीच हुई बातचीत को सार्वजनिक किया जाए. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आरएसएस के प्रचारक संजय जोशी के खिलाफ 2005 में आई सेक्स सीडी फर्जी थी और इसको बनाने वालों का नाम वह समय आने पर बताएंगे.

उन्होंने कहा, ''2005 में जोशी का फर्जी वीडियो बनाकर आरएसएस जैसी पवित्र संस्था के प्रचारक को बदनाम करने का षड्यंत्र करने का काम गुजरात से हुआ था. सीडी बनाने वाले का नाम मैं जानता हूं और समय आने पर मैं उसे सार्वजनिक करूंगा. मैं उस सीडी की जांच करने वालों में से एक था. भगवान सत्य की रक्षा करेगा. भट्ट गुजरात में षड्यंत्र का हिस्सा बन रहा है. भट्ट तोगड़िया की इज्जत पर हाथ डाल रहा है. पीएम के साथ उनकी इनकमिंग और आउटगोइंग कॉल की डिटेल्स को सार्वजनिक की जाए.''

उन्होंने कहा, ''क्राइम ब्रांच ही मेरे बारे में सिलेक्टिव वीडियो टीवी चैनल को दे रहा है. संजय जोशी का वीडियो भी यहीं बना था. यह सब तोगड़िया को बदनाम करने के लिए किया जा रहा है.'' उन्होंने कहा कि वह क्राइम ब्रांच के खिलाफ कार्रवाई करेंगे. उन्होंने कहा, ''पीएम षड्यंत्र न करें. इसको लोकतंत्र की हत्या करके राजनीतिक षड्यंत्र का हिस्सा मत बनने दो. मुझे क्राइम ब्रांच पर गर्व है. मैंने कभी पुलिस अधिकारी के खिलाफ बयान नहीं दिया, लेकिन भट्ट मेरे खिलाफ कार्रवाई कर रहा है.''

गौरतलब है कि दो दिन पहले प्रवीण तोगड़िया गायब हो गए थे इसके 11 घंटे बाद वह अहमदाबाद के एक पार्क में बेहोश पाए गए थे. कहा गया था कि वह पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए गायब हुए थे. मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस कर तोगड़िया ने अपने खिलाफ साजिश होने की बात कही थी. तोगड़िया ने दावा किया था कि राजस्थान पुलिस ने उनके एनकाउंटर की साजिश रची थी, इसलिए वह खुद वीएचपी दफ्तर से गायब हो गए थे.

उन्होंने आरोप लगाया था कि वह हिंदू एकता के लिए प्रयास कर रहे हैं, इसलिए उनकी आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है. इस दौरान वह ऑन कैमरा रोने लगे थे. उनकी आंखों में आंसू नजर आ रहे थे.

कभी साथ-साथ स्कूटर से घूमते थे मोदी और तोगड़िया

एक दौर था जब प्रवीण तोगड़िया, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और संघ प्रचारक संजय विनायक जोशी काफी अच्छे दोस्त हुआ करते थे. संघ के प्रचार के लिए तोगड़िया और मोदी गुजरात की सड़कों पर स्कूटर से एक साथ घूमा करते थे. लेकिन जब पीएम मोदी साल 2002 में गुजरात के मुख्यमंत्री बने तो शुरुआत में तो सब ठीक रहा लेकिन बाद में बहुत कुछ बदल गया.

जब 2002 में गुजरात में गोधरा में ट्रेन में आगजनी की घटना के बाद दंगा भड़का था, तब भी प्रवीण तोगड़िया ने मोदी का खुलकर साथ दिया था. दंगे के दौरान एक संवाददाता से फोन पर प्रवीण तोगड़िया की बात हुई थी. तब तोगड़िया ने मोदी के शासन का न केवल बचाव किया था, बल्कि यह तर्क दिया था, "गुजरात के लोग बहुत संवेदनशील होते हैं. जब भी सांप्रदायिक दंगा भड़का है, लंबे समय तक चला है."

लेकिन बाद में नरेन्द्र मोदी के रिश्ते न केवल संजय जोशी से तल्ख हुए, बल्कि प्रवीण तोगड़िया से भी उनके रिश्ते बिगड़ गए. इसकी वजह गुजरात के गृह विभाग में प्रवीण भाई के गाहे-बगाहे हस्तक्षेप को बताया जा रहा था. बताते हैं नरेन्द्र मोदी ने मौखिक तौर पर प्रवीण तोगड़िया को विभाग में नजरअंदाज किए जाने का संदेश दे दिया और खुद थोड़ा दूरी बनाने लगे. इसके बाद बिगड़ने का सिलसिला चल निकला.

फिर चाहे गुजरात में सड़क या विकास के रास्ते में आ रहे मंदिरों को प्रशासन द्वारा तोड़ा जाना हो या अन्य टकराव की नींव पड़ने लगी. गुजरात पुलिस ने वीएचपी के कार्यकर्ताओं से सख्ती से निबटना शुरू कर दिया. धीरे-धीरे प्रवीण भाई मोदी के भयंकर आलोचक हो गए.

First published: 18 January 2018, 8:56 IST
 
अगली कहानी