Home » राजनीति » VK Singh issue about Ram Kishan Grewal mental health, kejriwal criticism
 

वीके सिंह ने रामकिशन ग्रेवाल की मानसिक स्थिति पर उठाया सवाल, केजरीवाल ने लताड़ा

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:45 IST
(एजेंसी)

वन रेंक वन पैंशन की मांग को लेकर आत्महत्या करने वाले हरियाणा के पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल की आत्महत्या के मामले में एक और विवाद तब खड़ा हो गया, जब केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री और सेना के पूर्व जनरल वीके सिंह कहा कि ओआरओपी को लेकर कथित तौर पर खुदकुशी करने वाले पूर्व सैन्यकर्मी की ‘मानसिक स्थिति’ की जांच की जरूरत है.

पूर्व सैन्यकर्मी राम किशन ग्रेवाल द्वारा कथित तौर पर खुदकुशी किए जाने की घटना पर वीके सिंह ने संवाददाताओं से कहा, "उन्होंने खुदकुशी की है. कोई नहीं जानता कि क्या वजह है. ओआरओपी को एक कारण के तौर पर दिखाया जा रहा है. उनकी मानसिक स्थिति क्या थी? हम नहीं जानते. पहले इसकी जांच होने दीजिए. ओआरओपी को राजनीति से ऊपर रखिए."

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने पूर्व सैन्यकर्मियों की लंबित मांगों को स्वीकार कर लिया है. वहीं वीके सिंह की इस टिप्पणी पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वीके सिंह पर उन्हें शर्म आती है. उनको (राम किशन) दो बार राष्ट्रपति और एक बार सीओएएस (सेना प्रमुख) से पदक मिले. वह एक सम्मानित सैनिक थे.

वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आरपीएन सिंह ने भी जनरल वीके सिंह के बयान पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि पूर्व सेना प्रमुख की ओर से मानसिक स्थिति का सवाल करना बहुत दुखद है.

First published: 3 November 2016, 11:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी