Home » राजनीति » West Bengal Assembly Election: Rajib Banerjee, and 4 other TMC leaders join BJP in Delhi
 

West Bengal Assembly Election: चुनावों से पहले ममता बनर्जी को लगा एक और बड़ा झटका, पूर्व मंत्री समेत पांच नेताओं ने थामा बीजेपी का हाथ

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 January 2021, 23:20 IST

पश्चिम बंगाल में इस साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले सत्ताधारी दल टीएमसी के नेताओं और विधायकों का दूसरे दल में जाने का सिलसिला जारी है. इसी कड़ी में शानिवार को पूर्व मंत्री समेत पांच नेताओं ने दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में बीजेपी का दामन थाम लिया है. टीएमसी के जिन पूर्व नेताओं ने बीजेपी का दामन थामा है, उसमें उसमें पूर्व मंत्री राजीब बनर्जी, विधायक प्रबीर घोषाल, बैशाली डालमिया, अभिनेता रुद्रनील घोष और हावड़ा के पूर्व मेयर रतिन चक्रवर्ती शामिल हैं. अमित शाह की मौजूदगी में इन लोगों ने बीजेपी की सदस्यता हासिल ली है.

अमित शाह ने ट्वीट करके कहा,"पूर्व टीएमसी नेताओं राजीब बनर्जी, बैशाली डालमिया, प्रबीर घोषाल, रतिन चक्रवर्ती और रुद्रनील घोष आज नई दिल्ली में भाजपा में शामिल हो गए. मुझे यकीन है कि इनके आने से बीजेपी की सोनार बांग्ला की लड़ाई को और मजबूत करेगा." बता दें, राजीब बनर्जी ने 22 जनवरी को मंत्री पद से इस्तीफा दिया था. इसके बाद उन्होंने विधायक पद और टीएमसी की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया था.


दिल्ली रवाना होने से पहले पत्रकारों से बात करते हुए बनर्जी ने कहा,"जब मैंने एक विधायक के रूप में इस्तीफा दे दिया और टीएमसी की अपनी प्राथमिक सदस्यता छोड़ दी, उसके बाद मुझे केंद्रीय गृह मंत्रालय से फोन आया था. माननीय केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने मुझे आज दिल्ली में उनसे मिलने के लिए आमंत्रित किया. पार्टी नेता कैलाश विजयवर्गीय भी मेरे पास पहुंचे. मुझे लगा कि मुझे उनकी अपील का जवाब देना चाहिए. इसलिए, मैंने आज उनसे मिलने का फैसला किया है. उनसे मिलने के बाद मैं संभवत: बीजेपी में शामिल हो जाऊंगा. मैं हमेशा राज्य के विकास के लिए काम करूंगा."

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि बनर्जी को दिल्ली लाने के लिए अमित शाह ने विशेष विमान भेजा था. सूत्रों ने कहा कि टीएमसी के पूर्व विधायक बैशाली डालमिया, रतिन चक्रवर्ती और प्रबीर घोषाल भी इसी फ्लाइट से जरिए दिल्ली पहुंचे हैं.

बता दें, अमित शाह को दो दिनों के पश्चिम बंगाल के दौरे पर जाना था. इस दौरे पर अमित शाह को रविवार को हावड़ा के डुमुरजुला में एक रैली करनी थी, और उस रैली में ही इन लोगों को बीजेपी में शामिल होना था. हालांकि, दिल्ली में शुक्रवार को इजयारल दूतावास के पास हुए एलईडी ब्लास्ट हुआ था, जिसके कारण गृह मंत्री ने अपना कार्यक्रम रद्द कर दिया था.

Farmers Protest: गृह मंत्रालय का आदेश- सिंघु, गाज़ीपुर और टिकरी बॉर्डर पर 31 जनवरी तक इंटरनेट बंद

First published: 30 January 2021, 23:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी