Home » राजनीति » West Bengal: Calcutta High Court order to EC to issue fresh Date for filing of nomination of Panchayat Election
 

HC ने ममता सरकार को दिया झटका, पंचायत चुनाव नई तारीख में कराने का दिया निर्देश

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 April 2018, 18:52 IST

पश्चिम बंगाल की ममता सरकार को कलकत्ता हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है. हाईकोर्ट ने पश्चिम बंगाल चुनाव आयोग को पंचायत चुनावों के लिए नामांकन की तारीख को आगे बढ़ाने का निर्देश दिया है. कोर्ट ने कहा कि नांमाकन प्रक्रिया को नई तारीख के हिसाब से फिर से शुरू किया जाए.

बता दें कि इससे पहले पुरानी तारीख के अनुसार, पंचायत चुनाव 1 मई से 5 मई के बीच 3 चरणों में होने थे. जबकि वोटों की गिनती 8 मई को की जानी थी. बीजेपी और वाम दल पंचायत चुनावों की तारीखों को लेकर सत्ता धारी ममता बनर्जी पर सरकार का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया था. मार्क्सवादी कम्युनिष्ट पार्टी ने आरोप लगाते हुए कलकत्ता हाईकोर्ट में कहा था कि चुनाव आयुक्त ने पंचायत चुनावों की तारीखों की अधिसूचना को वापिस लेकर तृणमूल सरकार की कठपुतली की तरह काम किया है.

मार्क्सवादी कम्युनिष्ट पार्टी ने अपनी याचिका में अमेरकेंद्र कुमार सिंह को राज्य के चुनाव आयुक्त पद से हटाने की मांग की है. याचिका में कहा गया है कि राज्य चुनाव आयुक्त अमेरकेंद्र कुमार सिंह भरोसे को तोड़ा है. वहीं दूसरी तरफ पंश्चिम बंगाल बीजेपी के एक नेता ने भी राज्य चुनाव आयुक्त पर आरोप लगाया था. बीजेपी ने अपने उम्मीदवारों को पंचायत चुनाव में नामांकन दाखिल नहीं करने दिए जाने का आरोप लगाया था.

 

बीजेपी ने इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए पंचायत चुनाव के लिए नामांकन की तारीख को बढ़ाने की मांग की थी. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी को झटका देते हुए नामांकन की तारीख को आगे बढ़ाने से इंकार कर दिया. सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि वह चुनावी प्रक्रिया में हस्तक्षेप नहीं कर सकता है.

First published: 20 April 2018, 18:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी