Home » राजनीति » west bengal raniganj violence babul supriyo says mamata banerjee jehadi government
 

केंद्रीय मंत्री ने ममता सरकार को कहा 'जेहादी सरकार'

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 March 2018, 12:59 IST

रामनवमी के मौके पर पश्चिम बंगाल में भड़की हिंसा पर राजनैतिक पार्टियों ने सियासत शुरु कर दी है. बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने इसे लेकर ममता सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने इस हिंसा के लिए ममता सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. यही नहीं केंद्रीय मंत्री ने ममता सरकार को जिहादी सरकार बताया है.

दरअसल, रामनवमी के मौके पर पश्चिम बंगाल के रानीगंज में हिंसा भड़क गई थी. इस पर बंगाल के आसनसोल से सांसद और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने आरोप लगाए कि रानीगंज हिंसा की वजह पुलिस द्वारा कार्रवाई ना करना रही. उन्होंने सूबे की ममता सरकार पर तुष्टीकरण का आरोप लगाते हुए कहा कि अगर पुलिस पहले से कोई कदम उठाती तो हिंसा को टाला जा सकता था.

उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए कहा कि पुलिस अपने राजनीतिक आकाओं के मुताबिक काम कर रही थी. इलाके के गुंडों को पूरी छूट दी गई थी. यही नहीं सुप्रियो ने अपने ट्वी में कहा कि जिहादी सरकार को बता देंगे कि बंगाल की आत्मा अभी जिंदा है. उन्होंने लिखा कि सोशल मीडिया पर सैकड़ों तस्वीरें वायरल हो रही हैं अगर इनमें से 25 फीसदी भी सही हैं तो पता चल जाएगा कि हालात कितने खराब हैं.

बता दें कि पश्चिम बंगाल में भड़की हिंस के बाद बिहार में भी हालात तनावपूर्ण हो गए हैं. बिहार के भागलपुर, औरंगाबाद, समस्तीपुर और मुंगेर में भी हिंसा की खबरें सामने आ रही हैं. तनावपूर्ण हालातों को देखते हुए आसनसोल में धारा 144 लगा दी गई है. पूरे इलाके में रैपिड एक्शन फोर्स और पुलिस बल को तैनात किया गया है. वहीं बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि राम के नाम पर होने वाली गुंडागर्दी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- CJI दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग लाने की तैयारी में विपक्षी पार्टियां

First published: 28 March 2018, 12:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी