Home » राजस्थान » Pehlu Khan was lynched, now he is chargesheeted by Congress government
 

लिंचिंग में मारे गए थे पहलू खान, अब कांग्रेस सरकार में बेटों के खिलाफ तैयार हुई चार्जशीट

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 June 2019, 10:25 IST

राजस्थान पुलिस ने अलवर में गौ रक्षकों की भीड़ द्वारा मारे गए डेयरी किसान पहलू खान और उसके दो बेटों के खिलाफ गौ तस्करी के आरोप में चार्जशीट दायर की है. चार्जशीट में 1 अप्रैल 2017 को मवेशियों के परिवहन के लिए उपयोग किए जाने वाले पिक-अप ट्रक के मालिक का नाम भी शामिल है.

इस चार्जशीट में पहलू खान पर मरणोपरांत आरोप लगाए गए हैं जो पिछले साल 30 दिसंबर को तैयार की गई थी. यह चार्जशीट कांग्रेस पार्टी के सत्ता में आने के बाद तैयार की गई है. खान और उनके बेटों पर राजस्थान गोवंशीय पशु (वध और अस्थायी प्रवासन या निर्यात पर प्रतिबंध) अधिनियम, 1995 और नियम 1995 की धारा 5, 8 और 9 लगाई गई है.

द इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार पहलू खान के सबसे बड़े बेटे इरशाद (25), जिन्हें आरोपपत्र में नामित किया गया है, ने कहा “हमने अपने पिता को पहले ही खो दिया और अब हम पर गौ तस्करों के आरोप लगाए गए हैं. हमें उम्मीद थी कि राजस्थान में नई कांग्रेस सरकार हमारे खिलाफ मामले की समीक्षा करेगी और वापस लेगी, लेकिन अब हमारे खिलाफ आरोप पत्र दायर किया गया है. हम सरकार बदलने के बाद न्याय की उम्मीद कर रहे थे लेकिन ऐसा नहीं हुआ''.

खान के छोटे बेटे आरिफ को भी आरोप पत्र में नामित किया गया है. पिछले साल राजस्थान में पिछली भाजपा सरकार ने खान के दो सहयोगियों अज़मत और रफ़ीक के खिलाफ एक समान आरोप पत्र दायर किया था, जिन पर भीड़ द्वारा हमला किया गया था, जिन्होंने ट्रक चालक अर्जुन को भी निशाना बनाया था. पिकअप के मालिक जगदीश प्रसाद पर भी अधिनियम की धारा 6 के तहत आरोप लगाए गए थे.

खाई में गिरी यात्रियों से खचाखच भरी बस, 6 लोगों की मौत 39 घायल

First published: 29 June 2019, 9:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी