Home » राजस्थान » Rajasthan: BJP MLA Ghanshyam Tiwari resigns from BJP announces new party
 

राजस्थान से मोदी और शाह के लिए आई बहुत बुरी खबर, इस दिग्गज नेता ने बनाई नई पार्टी

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 June 2018, 14:34 IST

राजस्थान से बीजेपी के लिए बहुत बुरी खबर आई है. बीजेपी से नाराज चल रहे सांगानेर विधायक घनश्याम तिवाड़ी ने आखिरकार बीजेपी से इस्तीफा दे दिया है. घनश्याम तिवाड़ी ने चुनाव से एेन पहले पार्टी से इस्तीफा देने की घोषणा की है. इसकी मुख्य वजह मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से लगातार अनबन को बताया जा रहा है. 

तिवाड़ी ने इस सम्बन्ध में अपना पत्र अमित शाह को लिख दिया है. उन्होंने कहा है कि वे अगला चुनाव भारत वाहिनी पार्टी के चुनाव चिह्न पर सांगानेर विधानसभा से लड़ेंगे. तिवाड़ी ने पत्रकारों को अमित शाह को लिखे पत्र को पढ़ कर सुनाया और अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी. तिवाड़ी ने कहा कि साढ़े चार साल में राजस्थान की जनता को लूटा गया और भ्रष्टाचार बढ़ा.

तिवाड़ी ने कहा, "काला कानून लाकर अघोषित आपातकाल लगाने की कोशिश की गई. देश और प्रदेश में आज अघोषित आपातकाल लगा हुआ है. दिल्ली ने वसुंधरा राजे के आगे घुटने टेक दिए हैं. राजस्थान भाजपा एक व्यक्ति की निजी दुकान बन कर रह गई है. मौजूदा सरकार ने राजस्थान को तबाह कर दिया. राजस्थान में भाजपा और वसुंधरा में कोई फर्क नहीं रह गया है. अब वसुंधरा राजे का नेतृत्व हो या नहीं हो, वापस पार्टी में नहीं आऊंगा."

 

तिवाड़ी ने आगे कहा कि उनके मन में पार्टी छोड़ने की पीड़ा है, लेकिन उनके पास अब और कोई रास्ता नहीं बचा है. तिवाड़ी के बेटे अखिलेश तिवाड़ी की अध्यक्षता में बनी भारत वाहिनी पार्टी इस विधानसभा चुनाव में सभी 200 सीटों पर उतारने का मन बना चुकी है. अखिलेश के पिता घनश्याम तिवाड़ी राजस्थान सियासत के दिग्गज माने जाते हैं.

पढ़ें- बाबा रामदेव को तगड़ा झटका, BSF ने जग्गी वासुदेव के साथ किया योग का करार

बता दें कि शेखावटी की राजनीति में भी उनकी अच्छी ख़ासी दखल है. वहीं भाजपा से अंदर खाने नाराज चल रहे कुछ पार्टी नेता और विधायकों से भी तिवाड़ी की घनिष्ठता है. ऐसे में माना जा रहा है कि आने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा के लिए तिवाडी फैक्टर किसी चुनौती से कम नहीं होगा.

First published: 25 June 2018, 14:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी