Home » राजस्थान » Rajasthan bypoll election results: Congress beaten bjp, rajasthan by election result 2018 live, ajmer lok sabha result 2018, vasundhara raje
 

राजस्थान उपचुनाव: बीजेपी को पटकनी देकर कांग्रेस ने छीन ली लोकसभा सीटें

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 February 2018, 15:38 IST

राजस्‍थान की दो लोकसभा और एक विधानसभा सीट पर उपचुनाव की मतगणना लगभग खत्म हो गई है. यहां कांग्रेस ने भाजपा को चारों खाने चित्त कर दिया है. उपचुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी की दो सीटों पर सैंधमारी करते हुए सत्ता का सेमीफाइनल जीत लिया है. 29 जनवरी को हुए अलवर और अजमेर लोकसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी भारी मतों से जीत दर्ज करने के कगार पर हैं.

अलवर लोकसभा सीट पर अब तक कांग्रेस को 502252 वोट, तो भाजपा को 361407 वोट मिल चुके हैं. इधर, अजमेर लोकसभा सीट पर अब तक कांग्रेस को 391574 वोट और भाजपा को 313706 वोट मिल चुके हैं. अलवर से कांग्रेस के डॉ. करण सिंह यादव और भाजपा के डॉ. जसवंत सिंह यादव मैदान में है. इधर, अजमेर से कांग्रेस के डॉ. रघु शर्मा और भाजपा से रामस्वरुप लांबा के बीच मुकाबला है राज्‍य में सत्‍ताधारी भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनावों में यहां की सभी 25 सीटें जीती थीं.

 

गौरतलब है कि भाजपा सांसदों और भाजपा विधायक के निधन के कारण राजस्थान में उपचुनाव कराने पड़े हैं. अजमेर के सांसद सांवर लाल जाट का पिछले साल नौ अगस्त को देहांत हो गया था, जबकि अलवर के सांसद महंत चंद नाथ का 17 सितंबर को देहांत हो गया था. इसके अलावा मंडलगढ़ क्षेत्र की भाजपा विधायक कीर्ति कुमारी का पिछले 28 अगस्त को स्वाइन फ्लू के चलते निधन हो गया था.

राजस्‍थान की इन तीनों सीटों पर भाजपा का कब्‍जा था, मगर सभी सीटें कांग्रेस के पाले में जाती दिख रही हैं. यहां कांग्रेस की ओर से सचिन पायलट ने धुआंधार प्रचार किया था. उन्‍होंने रुझान आने के बाद एएनआई से कहा था, ”शुरुआती ट्रेंड्स दिखाते हैं कि सरकार के खिलाफ जनादेश है. मुझे उम्‍मीद है कि हमारी बढ़त और बढ़ेगी. वसुंधराजी और उनकी सरकार को लोगों ने पूरी तरह खारिज कर दिया है.”

अलवर में भारतीय जनता पार्टी के जसवंत सिंह यादव का सामना कांग्रेस के करण सिंह यादव से था जबकि अजमेर सीट पर कांग्रेस के रघु शर्मा का मुकाबला भाजपा के राम स्वरूप लांबा से था. मंडलगढ़ सीट पर मुख्य मुकाबला भाजपा के शक्ति सिंह हाडा और कांग्रेस के विवेक धाकड़ के बीच था.

 

बता दें कि पद्मावत विवाद के चलते राजपूत समुदाय ने खुलकर कांग्रेस को तीनों सीटों पर समर्थन देने की बात कही थी, ऐसे में ये उपचुनाव भारतीय जनता पार्टी सरकार के लिए अग्निपरीक्षा की तरह था. इन उपचुनावों में जातीय समीकरण ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. अलवर में दो यादव उम्मीदवार, अजमेर और मंडलगढ़ में क्रमश: जाट और ब्राह्मण उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे थे.

इससे पहले राजस्थान उपचुनाव की मतगणना आज सुबह आठ बजे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शुरु हुई थी. राज्य के निवार्चन विभाग के अनुसार अलवर और अजमेर लोकसभा एवं भीलवाड़ा जिले में मांडलगढ़ विधानसभा उपचुनाव की मतगणना संबंधित जिला मुख्यालयों पर पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के बीच शुरू हुई थी.

इधर, भाजपा की बुरी तरह से हार को लेकर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने समीक्षा बैठक शुरू कर दी है. एेसे में राजस्थान के जयपुर स्थित भाजपा मुख्यालय में सन्नाटा पसर गया है. उधर, कांग्रेस मुख्यालय में खुशी की लहर दौड़ गई है और सभी एक दूसरे को मिठाई खिला रहे हैं.

First published: 1 February 2018, 15:38 IST
 
अगली कहानी