Home » राजस्थान » Rajasthan: dalit groom rides mare on his wedding goons broken his uncle leg in sirohi
 

दबंगों की धमकी दरकिनार कर घोड़ी चढ़ा था दलित, तोड़ दिया चाचा का पैर

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 March 2018, 15:28 IST
(indian express)

एक दलित दूल्हे को दबंगों की धमकी दरकिनार कर घोड़ी चढ़ना महंगा पड़ गया. शादी के 15 दिन बाद दबंगोंं ने दूल्हे के चाचा का पैैर इसलिए तोड़ दिया क्योंकि दलित ने उनकी धमकी को दरकिनार कर दिया था. घटना राजस्थान के सिरोही जिले की है.

राजस्थान के सिरोही जिले के अंडोर गांव निवासी कुइयाराम मेघवाल की 18 फरवरी को शादी थी. शादी के दिन गांव के दबंग राजपूतों ने उसे घोड़ी पर न चढ़ने की धमकी दी थी. कुइयाराम के मुताबिक राजपूतों ने कहा था कि तुम तो मेघवाल हो, हम ठाकुर हैं, अगर तुम घोड़ी पर बैठोगे तो हमारी मर्यादा क्या रह जाएगी?

 

हालांकि घुइयाराम ने दबंगों की एक नहीं सुनी और शादी के दिन वह घोड़ी से बारात गया. इससे नाराज गांव के दबंग राजपूतों ने 15 दिन बाद चाचा पाका राम पर हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया. दूल्हे के चाचा पाकाराम का एक पैर तोड़ दिया गया. हमला उस समय हुआ, जब पाका राम वाटरवर्क्स बोर्ड दफ्तर से घर लौट रहे थे.

घटना के बाद पुलिस ने एससी-एससी एक्ट की धाराओं के साथ आईपीसी की धारा 307,365, 323, 341 के तहत आरोपियों पर केस दर्ज कर लिया. पुलिस ने कहा कि शुरुआती जांच में पता चला है कि ग्रामीणों से हुई कहासुनी के चलते पाका राम पर हमला हुआ.

घटना के बाद कुइयाराम ने बताया कि गांव के दबंगों की धमकी के बारे में हमने पुलिस को सूचना दी थी, जिस पर शादी के दिन पुलिस की सुरक्षा में हम घोड़ी पर चढ़े. रिश्तेदार गोपाल कुमार ने कहा कि मेघवाल समुदाय में शादी के दौरान अब तक कोई घोड़ी पर नहीं चढ़ा, इस नाते हम घोड़ी पर चढ़कर नई पीढ़ी के लिए एक उदाहरण पेश करने वाले थे.

First published: 4 March 2018, 15:28 IST
 
अगली कहानी