Home » राजस्थान » Rajasthan Dholpur District’s village Rajghat witnessed a Barat after a gap of 22 years
 

इस गांव में 22 साल बाद दूल्हा बना कोई लड़का, बारात देखने उमड़ पड़ी भीड़

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 May 2018, 16:36 IST

राजस्थान में धौलपुर के राजघाट गांव में 22 साल बाद किसी लड़के की शादी हुई. इतने सालों बाद किसी की शादी होने से पूरे गांव में खुशी का माहौल है. इससे पहले इस गांव में साल 1996 में किसी लड़के की शादी हुई थी.

दरअसल, ये गांव इतना पिछड़ा है कि यहां मूलभूत सुविधाओं की भारी कमी हैं. इस गांव में ना स्कूल है. और ना ही बिजली-पानी. सड़कों के नाम पर भी धूल भरे कच्चे रास्ते हैं. ये गांव धौलपुर जिला मुख्यालय से मात्र पांच किलो मीटर दूर है. इस गांव के बाशिंदों को सरकार की किसी योजना का लाभ भी नहीं मिलता.

 

इस गांव में मात्र एक हैंडपंप हैं जिससे खारा पानी ही निकलता है. यही वजह है कि कोई व्यक्ति अपनी बेटी की शादी इस गांव में नहीं करना चाहता. करीब 22 साल बाद इस गांव में पवन नाम के लड़के की शादी हुई. पवन 29 अप्रैल को दूल्हा बना तो चारों और खुशियां छा गईं.

इस गांव के लोग इतने गरीब हैं कि शादी के दिन भी पवन सिंह घोड़ी नहीं चढ़ पाया. पवन की शादी मध्यप्रदेश के कुसैत गांव से हुई है. गांव से जब बारात निकली तो गांव वालों ने खूब खुशियां मनाई. इस गांव में कुल 40 घर हैं जिनमें करीब 300 लोग ही रहते हैं.

ये गांव सरकार के उन दावों की पोल खोलता नजर आता है जिनमें भारत के हर गांव तक बिजली, पानी और मूलभूत सुविधाओं के होने की बात कही जाती है. इस गांव में बिजली तो दूर पीने के पानी की भी उचित व्यवस्था आज तक नहीं हुई. इस गांव की महिलाओं के लिए फ्रिज, टीवी, कूलर जैसी चीजें किसी दूसरी दुनिया की कहानी जैसी हैं.

ये भी पढ़ें- इस डायरेक्टर ने सरेआम नरगिस फाखरी के प्राइवेट पार्ट में लगाया हाथ, फोटो वायरल

First published: 5 May 2018, 16:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी