Home » राजस्थान » Rajasthan high court to hear petition on asaram case 25 april in jail, Rajasthan Police Alert due to Decision
 

आसाराम को जेल में ही सुनाया जाएगा फैसला, ये है पूरा मामला

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 April 2018, 15:55 IST

नाबालिग से दुराचार के आरोपी आसाराम पर फैसला सुनाने के लिए पुलिस ने कोर्ट में याचिका दायर की थी. पुलिस की इस याचिका को देखते हुए जस्टिस जीके व्यास की खंडपीठ ने कहा कि आसाराम का फैसला अब 25 अप्रैल को जेल में ही सुनाया जाएगा.

राजस्थान पुलिस ने कोर्ट में दी गई इस याचिका में कहा था कि आसाराम को लेकर आने वाले फैसले के दिन आसाराम के समर्थक उग्र हो सकते हैं. इससे कानून-व्यवस्था भी बिगड़ सकती है, इस मामले में पहले भी सुनवाई के दौरान कई बार तनाव फैला है और इन्हें काबू में करने के लिए पुलिस को कई बार लाठीचार्ज तक करना पड़ा है.

दरअसल, राजस्थान के अतिरिक्त महाधिवक्ता एस.के. व्यास के अनुसार चार दिन पूर्व हाईकोर्ट में याचिका लगाई थी. इस याचिका में लिखा था कि आसाराम को जोधपुर की विशेष एससी-एसटी कोर्ट में सुनाने के बजाय उसका फैसला जेल में ही आदेश सुना दिया जाए. इस मामले की गंभीरता को देखते हुए जस्टिस गोपालकृष्ण व्यास की खण्डपीठ ने पुलिस की अर्जी को सुनकर फैसला सुरक्षित रख लिया है, इस फैसले को लेकर अब कोर्ट ने 25 अप्रैल की तारीख तय की है.

गौरतलब है कि आसाराम पर उसके ही गुरुकुल के छात्रावास में रहनेवाली नाबालिग लड़की के साथ जोधपुर स्थित मणई आश्रम में दुराचार के आरोप हैं. वहीं फैसले की तारीख निकट आते देख पुलिस भी सर्तक हो गई है. पुलिस ने आसाराम के आश्रमों एवं जोधपुर आने वाले रेल मार्ग एवं सड़क मार्ग पर लगातार नजर रख रही है. पुलिस के इस बात का डर है कि कहीं आसाराम के समर्थक फैसला आने के बाद पंचकुला हिंसा को न दोहरा दें.

First published: 17 April 2018, 15:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी