Home » राजस्थान » rajsthan education directorate transferred deceased teacher
 

लापरवाहीः राजस्थान शिभा विभाग ने दिवंगत शिक्षक का कर दिया तबादला

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 March 2018, 20:09 IST

राजस्थान में शिक्षा विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है. शिक्षा विभाग ने एक दिवंगत शिक्षक का पहले तबादला कर दिया, उसके बाद शिक्षक को प्रमोशन भी दे दिया गया. मामला सामने आने के बाद शिक्षा विभाग को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ रहा है. शिक्षा निदेशालय ने कहा है कि गलती से ऐसा हो गया है, पूरे मामले की जांच करवाई जाएगी.

जानकारी के अनुसार दिवंगत शिक्षक मोहम्मद जाकिर की 4 अप्रैल 2015 को जयपुर के अंबेर में एक दुर्घटना में मौत हो गई थी. वो जय़पुर के   राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में कार्यरत थे. शिक्षा विभाग ने उनका स्थानातरण जयपुर से अजमेर के श्रीनगर ब्लॉक स्थित जीएसएसएस गेगल स्कूल में कर दिया. इतना ही नहीं मौत के बाद शिक्षक का प्रमोशनम भी कर दिया गया. ऐसा नहीं था कि शिक्षख की मौत की विभाग को जानकारी नहीं थी. दिवंगत शिक्षक के परिजनों ने सभी विभागों में उनकी मौत का सर्टिफिकेट जमा करा दिया था. जिसके बाद शिक्षक की पत्नी को राज्य सरकार द्वारा पेंशन भी मिल रही है. अब सवाल ये हैं कि इस सबके बाद भी शिक्षा विभाग ने इतनी बड़ी गलती कैसे कर दी.

हालांकि मामला सामने आने के बाद जयपुर निदेशालय में निदेशक पद पर तैनात मुकेश कुमार शर्मा ने कहा कि लंबे समय से शिक्षकों के पदोन्नति का काम रुका हुआ था. जिसको जल्द निपटाने का काम किया जा रहा था. इस दौरान गलती है ऐसा हो गया है. मैं पूरे विश्वास के साथ कह सकता हूं कि जाकिर की मौत से पहले उनकी पदोन्नति का कार्य लंबित पड़ा होगा जो पारित हो गया है. इस पूरे मामले की जांच कराई जाएगी.

वहीं दिवंगत शिक्षक के भाई ने कहा कि जब उन्होंने शिक्षकों के तबादले की लिस्ट में देखा तो वो हैरान रह गए. उन्होंने कहा कि भाई की मृत्यु का प्रमाण पत्र सभी विभागों में जमा करा दिया गया है. उसके बाद जाकिर की पत्नी को पेंशन भी दी जा रही हैं. इसके साथ ही वो राजस्थान सरकार से जाकिर की जगह पर जाकिर के बेटे को अनुकंपा नियुक्ति देने की मांग कर रहे हैं.

First published: 24 March 2018, 20:10 IST
 
अगली कहानी