Home » राजस्थान » Triple Talaq: Man divorced her wife on road in Rajasthan
 

7 साल बाद हुई बेटी, टूटा रिश्ता, कहा- 'तलाक, तलाक, तलाक'

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 November 2016, 16:06 IST

देश में जहां एक ओर तीन तलाक को लेकर बड़ी बहस छिड़ी हुई है, वहीं राजस्थान में तीन तलाक का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. शादी के नौ साल बाद एक महिला को उसके पति ने सड़क पर ही तलाक दे दिया.

मामला जोधपुर शहर का है. फरहा नाम की महिला का कहना है कि में एक पति ने पत्नी को सड़क पर ही तलाक दे दिया. फरहा के आरोपों के मुताबिक बच्ची को जन्म देने की वजह से उसके पत्नी ने तलाक दे दिया.

फरहा के पति इरफान ने सड़क पर ही खुलेआम तीन बार तलाक बोला और कहा कि मुझे तुम्हें नहीं रखना है. दोनों की नौ साल पहले शादी हुई थी.

शादी से लौटने पर तलाक

शादी के सात साल बाद दोनों को एक बेटी हुई. फरहा का आरोप है कि पहले बच्चा न होने और फिर बेटी होने की वजह से ससुराल वाले उसे परेशान करने लगे.

फरहा का कहना है कि उसे एक शादी में भेजा गया था, लेकिन जब वो शादी से लौटी तो उसे कहा गया कि तीन बार तलाक बोल दिया जाएगा. 

इसको लेकर पति इरफान और सास-ससुर से उसकी जमकर लड़ाई हुई. फरहा अपनी बेटी के साथ ससुराल में रुक गई. फरहा का कहना है कि वह इस तरह बोले गए तलाक को मानने को तैयार नहीं है.

पति इरफान का कहना है कि उसकी पत्नी को देर से बच्ची हुई. पति का आरोप है कि फरहा ससुराल वालों से अच्छा व्यवहार नहीं करती है. तलाक देने के पीछे यही वजह है.

ससुराल के सामने धरना

जाहिर है 9 साल की शादी को तोड़ने में इरफान को तीन सेकेंड भी नहीं लगे. तीन तलाक के इस मामले ने एक बार फिर तीन तलाक को लेकर चर्चा गर्म कर दी है.

फरहा ने इसे नाइंसाफी करार देते हुए ससुराल के सामने धरना शुरू कर दिया है. इससे पहले स्पीडपोस्ट से तलाक, मोबाइल पर तलाक, एसएमएस पर तलाक के अलावा व्हाट्सऐप से तलाक की घटनाएं सामने आ चुकी हैं.

तीन तलाक का मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने जहां तीन तलाक के पक्ष में हलफनामा दिया है,वहीं मोदी सरकार तीन तलाक के विरोध में हलफनामा दे चुकी है.

First published: 4 November 2016, 16:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी