Home » राजस्थान » Woman gets panchayat order to tie husband to tree in Jaisalmer.
 

तुग़लकी फ़रमान: 'पति को हफ्ते भर पेड़ से बांधकर मारो थप्पड़'

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 May 2017, 15:18 IST

राजस्थान के जैसलमेर में एक गांव की पंचायत ने पति पत्नी के बीच हुए घरेलू विवाद को लेकर तुगलकी फरमान सुनाया है.

इस तुगलकी फरमान के बाद पति को चार दिन तक भीषण गर्मी में घर के बाहर पेड़ से बंधे रहना पड़ा. शिकायत मिलने के बाद मंगलवार को पुलिस ने इस आदमी को मुक्त कराके अस्पताल में भर्ती कराया है.

घटना राजस्थान के जेसलमेर जिले के पोकरण उपखंड के खींवसर गांव का है. धनाराम का पिछले कुछ समय से उसकी पत्नी गंगा के साथ 70 वर्षीय मां की सेवा को लेकर विवाद चल रहा था.

धनाराम अपनी माता के साथ रहना चाहता था, लेकिन उसकी पत्नी को यह पसंद नहीं था. पत्नी ने अपनी शिकायत गांव की पंचायत में की. पंचायत के दौरान धनाराम की पत्नी गंगा ने अपने पति व सास द्वारा अक्सर गाली गलौच व मारपीट का आरोप लगाया.

पंचायत ने सुनाया तुगलकी फरमान-

धनाराम व उसकी माता के ऐसे व्यवहार को देखकर पंचों ने धनाराम को खुले आसमान के नीचे 7 दिन तक पेड़ से बंधा रहने का फरमान सुनाया. वहीं उसकी पत्नी गंगा को उसे सुधारने के लिए रोज दो थप्पड़ लगाने की भी नसीहत दी.

पंचों ने पड़ोसियों को भी कह दिया कि जब तक हमारा हुक्म नहीं होगा, तब तक इसे कोई भी पेड़ से नहीं खोलेगा. अगर कोई उनके पास जाएगा तो उसका हुक्का-पानी बंद कर दिया जाएगा.

इस मामले की खबर मीडिया में आने के बाद मंगलवार को पुलिस गांव पहुंची और धन्नाराम को मुक्त कराके अस्पताल में भर्ती कराया. इसके साथ ही पुलिस पंचों के खिलाफ भी जांच कर रही है.

First published: 31 May 2017, 12:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी