Home » धर्म » Akshaya Tritiya 2020: Know the importance and subh muhurat of Puja and worship timing
 

Akshaya Tritiya 2020: इस अक्षय तृतीया पर बन रहे ये राजयोग, जानें क्या है पूजा का शुभ मुहूर्त

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 April 2020, 11:11 IST

Akshaya Tritiya 2020: आज देशभर में अक्षय तृतीया का त्योहार मनाया जा रहा है, हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया का बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है. धार्मिक रूप से विशेष महत्व रखने वाली अक्षय तृतीया वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है. इस साल की अक्षय तृतीया कई मयानों में विशेष है. इस बार अक्षय तृतीया पर 6 राजयोग बन रहे हैं. हिन्दू पंचांग के मुताबिक, इस साल अक्षय तृतीया पर रोहिणी नक्षत्र के साथ अबूझ मुहूर्त पड़ रहा है जिसे बेहद शुभ माना जा रहा है. अक्षय तृतीया के मौके पर पूजा अर्चना ठीक वक्त पर कर लेनी चाहिए. जिससे शुभ फल की प्राप्ति होती है.

ये हैं अक्षय तृतीया की पूजा का शुभ मुहूर्त-


अक्षय तृतीया का त्योहार रविवार यानी 26 अप्रैल को मनाया जा रहा है. अक्षय तृतीया तिथि का शुभारंभ 11:50 बजे (25 अप्रैल 2020) होगा और ये अगले दिन यानी रविवार 26 अप्रैल 2020 को दोपहर 01:21 बजे तक रहेगा.

Akshaya Tritiya 2020: अक्षय तृतीया के दिन ये काम करने से मिलता है सौभाग्य, पूरी होगी मन की इच्छा

ऐसे करें मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए पूजा अर्चना-

ज्योतिषाचार्यो के मुताबिक, अक्षय तृतीया के दिन घर के सभी स्वर्ण आभूषणों को कच्चे दूध और गंगाजल से धोना चाहिए. इसके बाद इन जेवरों को एक लाल कपड़े पर रखकर केसर, कुमकुम से उनका पूजन करना चाहिए. पूजन करते समय उन पर लाल फूल चढ़ाना भी शुभ माना जाता है.

Solar Eclipse 2020: इस दिन लगेगा सूर्य ग्रहण, जानिए सूतक काल और ग्रहण का समय

मां लक्ष्मी के इस मंत्र का करें जाप-

ध्यान रहे जब मां लक्ष्मी की पूजा अर्चना करें तो महालक्ष्मी के मंत्र 'ऊं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद महालक्ष्मयै नम:" का जाप करना चाहिए. इस मंत्र का जाप करते वक्त कमलगट्टे की माला से जाप करें. इसके बाद मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए उनकी आरती करें और शाम के वक्त इन आभूषणों को तिजोरी में रख दें.

भूलकर भी न करें खंडित मूर्तियों की पूजा, वरना चुकाना पड़ सकता है भारी नुकसान

First published: 26 April 2020, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी