Home » धर्म » Dont sleep in this direction this is very dagerous
 

अगर आप भी करते हैं इस दिशा में पैर करके सोने की गलती, तो उठाना पड़ सकता है ये भारी नुकसान

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 January 2020, 11:11 IST

वास्तुशास्त्र का हमारे जीवन में बहुत ज्यादा महत्व माना जाता है. इसके अनुसार यदि छोटी-छोटी चीजे ध्यान दें तो हमारे जिंदगी की आधी से ज्यादा दिक्कतें दूर हो जाती हैं. वास्तु में सही दिशा की जानकारी होना बहुत लाभदायक होता है. वास्तु के मुताबिक हर चीज की सही दिशा के साथ-साथ सोने की दिशा भी सबी होना बहुत जरूरी है. चलिए बताते हैं आपको किस दिशा में सिर रखकर सोना बहुत ज्यादा बुरा माना जाता है.

उत्तर दिशा में कभी ना रखें सिर

उत्तर दिशा में सर रखना हमेशा मना किया जाता है. इसके पीछे का वैज्ञानिक कारण ये है जिसके मुताबिक दक्षिण की ओर पैर करके सोने पर चुम्बकीय धारा पैरों से प्रवेश करेगी और सिर तक पहुंचेगी. इस चुंबकीय ऊर्जा से मानसिक तनाव बढ़ता है और सवेरे जगने पर मन भारी-भारी रहता है.

दक्षिण दिशा की ओर रखें सिर

शास्त्र के मुताबिक दक्षिण दिशा में सिर रखना सोने से स्थिति बहुत नॉर्मल रहती है. सेहत के लिए भी ये दिशा सोने के लिए अच्छी मानी जाती है. दक्षिण से उत्तर की ओर लगातार चुंबकीय धारा प्रवाहित होती रहती है. जब हम अपना सिर दक्षिण की ओर करके सोते हैं तो यह ऊर्जा हमारे सिर की तरफ से प्रवेश करती है और पैरों की ओर से बाहर निकलती है.

क्या आप जानते हैं फायदों से भरपूर एलोवेरा के हैं ये खतरनाक साइड इफैक्ट्स, भूलकर भी न करें ये गलतियां

पूरब की ओर सिर करके सोना

पूरब की तरफ सिर और पैर पश्चिम की तरफ करके सोना भी शुभ माना जाता है. सूरज पूरब की तरफ निकलता हैं. सनातन धर्म के मुताबिक सूर्य को जीवनदाता और देवता माना जाता है. पूरब की ओर सिर रखा जा सकता है. इसी के साथ ऐसा करने से कभी विद्या की कमी नहीं होती है. छात्रों की यादास्त भी बढ़ती है. इस दिशा को स्वर्ग की दिशा भी कहते हैं. साथ ही आपकी स्मृति और एकाग्रता बढ़ती है.

किस्मत पलट सकती है पानी से भरी बाल्टी, ध्यान रखें ये 5 बातें

 

First published: 22 January 2020, 11:11 IST
 
अगली कहानी