Home » धर्म » Eid Ul Fitr 2020: Why Eid-ul-Fitr is made after the Pak month of Ramadan
 

Eid Ul Fitr 2020: रमजान के पाक महीने के बाद क्यों मनाई जाती है ईद-उल-फितर

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 May 2020, 14:52 IST

Eid Ul Fitr 2020: रमजान का पाक महीना ख़त्म होते ही ईद-उल-फितर का त्योहार दुनियाभर के मुसलमानों द्वारा मनाया जाता है. रमजान में पूरे महीने रोजे रखे जाते हैं, महीना ख़त्म होने के बाद ईद-उल फितर मनाई जाती है. ईद-उल-फितर 2020, 23 मई से शुरू होगा और 24 मई तक रहेगा. हालांकि वास्तविक तिथि चांद के दीदार के अनुसार बदल सकती है. ऐसा माना जाता है कि पैगंबर मुहम्मद साहब को पवित्र कुरान का पहला प्रकाशन रमजान के पवित्र महीने के दौरान मिला था. ईद-उल-फितर को मीठी ईद भी कहा जाता है. इस दौरान मीठे पकवान जैसे सेंवईं) आदि बनाये जाते हैं. लोग आपस में गले मिलकर भाई-चारे को बढ़ावा देते हैं. लोग बड़ी संख्या में घर आये मेहमानों को उपहार देते हैं.

इस दिन लोग दुनिया भर में प्रार्थनाओं में भाग लेते हैं जो सुबह होने के तुरंत शुरू हो जाती है. नए कपड़े पहने 'ईद मुबारक' कहकर अभिवादन किया जाता है. बच्चों को बड़ों से उपहार और पैसा मिलता है जिसे 'ईदी' कहा जाता है. साथ ही बिरयानी, हलीम, निहारी, कबाब और सेवइयां जैसी मिठाई सहित विभिन्न प्रकार के व्यंजनों वाले भोजन मेनू में शामिल होता है. इस्लाम के पांच स्तंभों में से एक के रूप में, ज़कात या गरीबों को भिक्षा देना भी ईद पर प्रचलित है.


ईद-उल फितर मुसलमानों के लिए एक महत्वपूर्ण धार्मिक अवकाश है. ईद भी शव्वाल के महीने की शुरुआत को दर्शाता है, जो महीने भर के उपवास की अवधि को समाप्त करने के लिए एक दावत के साथ शुरू होता है. हालांकि कुछ मुस्लिम छह दिनों के शव्वाल (ईद के अगले दिन) के दौरान उपवास का पालन करते हैं, क्योंकि इस अवधि को पूरे वर्ष के उपवास के बराबर माना जाता है.

यह धारणा है कि अच्छे कर्मों को इस्लाम में 10 बार पुरस्कृत किया जाता है और इसलिए रमज़ान के 30 दिन के उपवास की अवधि उन सभी लोगों के लिए शांति, सद्भाव और समृद्धि लाती है जो धार्मिक विश्वास के लिए खुद को समर्पित करते हैं. मुसलमान ईद अल-अधा भी मनाते हैं जो ईद-उल-फितर के तुरंत बाद होता है. ईद अल-अधा पर, मुसलमान पारंपरिक रूप से जानवरों की बलि देते हैं और मांस को फिर परिवार, दोस्तों और ज़रूरतमंदों में बांट दिया जाता है. इस वर्ष, ईद अल-अधा 30 जुलाई 2020 की शाम को शुरू होगा, और 31 जुलाई 2020 की शाम को समाप्त होगा.

Shani Jayanti 2020: शनि को मनाने के लिए ऐसे करें पूजा, बन जाएंगे हर बिगड़े काम

First published: 22 May 2020, 14:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी