Home » धर्म » Ganesh Chaturthi 2018: Know Ganesh Chaturthi Puja Vidhi Shubh Muhurat And Pratisthapana Vidhidhi
 

गणेश चतुर्थी 2018: ऐसे करें गणपति बप्पा की स्थापना, जानें प्रतिष्ठापना विधि और पूजा का शुभ मुहूर्त

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 September 2018, 9:51 IST

आज भाद्रपद मास की चतुर्थी तिथि है. पूरा देश गणपति बप्पा के रंग में रंगा हुआ है. चारों ओर भगवान गणेश के पर्व गणेश चतुर्थी की धूम है. बप्पा के भक्त आज भगवान गणपति की प्रतिमा की स्थापना करेंगे. उसके बाद 10 दिनों तक गणपति महोत्सव का पर्व चलेगा. ऐसी मान्यता है कि इन 10 दिनों में बप्पा अपने भक्तों के घर आते हैं और उनके दुख-दर्द को हरकर ले जाते हैं. इसीलिए भक्त उन्हें अपने घर में विराजमान करते हैं. 10 दिन बाद गणपति बप्पा का विसर्जन किया जाता है.

कैसे करें गणपति की प्रतिष्ठापना

गणेश चतुर्थी के मौके पर भगवान गणेश की प्रतिमा की स्थापना करने से पहले कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए. गणपति को लेने जाएं तो नवीन वस्त्र धारण करना शुभ माना जाता है. हो सके तो इस दौरान नए कपड़े ही पहनें. साथ ही चांदी की थाली में स्वास्तिक बनाकर उसमें गणपति को विराजमान करके घर लाएं. अगर चांदी की थाली का इंतजाम ना हो तो पीतल या तांबे की थाली का प्रयोग किया जा सकता है.

यदि भगवान गणेश की प्रतिमा बड़ी है तो हाथों में लाकर भी विराजमान कर सकते हैं. घर में विराजमान करें तो मंगलगान करें, कीर्तन करें और उन्हें लड्डू का भोग भी लगाएं.

ऐसा बनाएं पूजा स्थल

जहां भगवान गणपति को विराजमान करें वहां वहां कुमकुम से स्वास्तिक बनाएं. चार हल्दी की बंद लगाएं. एक मुट्ठी अक्षत रखें. इस पर छोटा बाजोट, चौकी या पटरा रखें. लाल, केसरिया या पीले वस्त्र को उस पर बिछाएं. रंगोली, फूल, आम के पत्ते और अन्य सामग्री से स्थान को सजाएं. तांबे के कलश में पानी भर कर रखें, कलश को आम के पत्ते और नारियल के साथ सजाएं. बता दें कि ये सब तैयारी गणपति की स्थापना से पहले ही कर लें.

ये है गणेश चतुर्थी का शुभ मुहूर्त

गणेश चतुर्थी का शुभ मुहूर्त गुरुवार यानि 13 सितंबर दोपहर का है. 11:03 बजे से दोपहर 1:30 बजे तक भगवान गणेश की पूजा का समय है.

गुरुवार यानी 13 सितंबर को, चन्द्रमा ना देखने का समय

सुबह 9:31 बजे से शाम 9:12 बजे तक चंद्रमा को ना देखें.

चतुर्थी तिथि समाप्ति का समय

भाद्रपद मास की चतुर्थी तिथि गुरुवार 13 सितम्बर 2018 को दोपहर 2:51 तक रहेगी. यानि इस समय चतुर्थी तिथि समाप्त हो जाएगी.

ये भी पढ़ें- गणेश चतुर्थी 2018: वास्तु दोष दूर करने के लिए घर में ऐसे लगाएं गणेश प्रतिमा

First published: 13 September 2018, 9:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी