Home » धर्म » Ram navami 2018 ram navami story shubh muhurt puja timing and puja vidhi
 

Ram Navami 2018: कैसे करें भगवान राम की पूजा, जानिए शुभ मुहूर्त

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 March 2018, 11:41 IST

आज पूरे देश में रामनवमी का त्योहार धूमधाम से मनाया जा रहा है. चैत्र नवरात्रि के आखिरी दिन मनाए जाने वाले इस त्योहार को भगवान राम के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है. ऐसा माना जाता है कि इस दिन विशेष पूजा-अर्चना और दान करने से भक्तों को विशेष पुण्य की प्राप्ति होती है. रामनवमी के दिन भगवान राम की पूजा की जाती है. कहा जाता है चैत्र शुक्ल पक्ष की नवमी को भगवान राम का जन्म हुआ था. इसलिए इस दिन को बहुत शुभ माना जाता है.

मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का जन्म

पुराणों के मुताबिक भगवान श्री राम का जन्म चैत्र महीने की शुक्ल पक्ष की नवमी को अयोध्या में हुआ. अगस्त्यसंहिता के मुताबिक भगवान राम का जन्म दिन के 12 बजे हुआ था. इस समय पुनर्वसु नक्षत्र व कर्क लग्न था. इस समय ग्रहों की दशा के अनुसार भगवान राम ने मेष राशि में जन्म लिया, जिस पर सूर्य एवं अन्य पांच ग्रहों की शुभ दृष्टि पड़ रही थी.

माता कौशल्या की कोख से जन्म लेने पर भगवान विष्णु के मानव अवतार लेने पर इस जन्मोत्सव का आनंद देवताओं, ऋषियों, किन्नरों, चारणों सहित अयोध्या नगरी की समस्त जनता ले रही थी. इतना ही नहीं यह भी माना जाता है कि गोस्वामी तुलसीदास ने रामचरित मानस की रचना भी रामनवमी के दिन ही शुरू की थी.

कैसे करें राम नवमी पर पूजा और व्रत

हिंदू धर्म में आस्था रखने वालों के लिए रामनवमी बहुत ही शुभ दिन होता है. माना जाता है कि सभी प्रकार के मांगलिक कार्य इस दिन बिना मुहूर्त विचार किये भी संपन्न किए जा सकते हैं. रामनवमी पर पारिवारिक सुख-शांति और समृद्धि के लिए व्रत भी रखा जाता है. रामनवमी पर पूजा के लिए पूजा सामग्री में रोली, ऐपन, चावल, स्वच्छ जल, फूल, घंटी, शंख आदि लिया जा सकता है.

राम नवमी के दिन व्रत रखने वाले व्यक्ति को सुबह जल्दी उठ कर घर की साफ सफाई कर स्नानादि के बाद व्रत का संकल्प करना चाहिए. इस दिन भगवान राम की प्रतिमा को स्थापित करें. इसके बाद श्रीराम की प्रतिमा पर हल्दी, चंदन और कुमकुम का तिलक लगाएं. भगवान राम को फूल अर्पित करें. इसके बाद भगवान राम की तस्वीर के सामने घी का दीपक जलाएं और भगवान राम को खीर का भोग लगाएं. इस दिन पंडितों को भोजन अवश्य करवाना चाहिए.

राम नवमी के दिन क्या करना है शुभ

राम नवमी के दिन गृह प्रवेश, दुकान का या प्रतिष्ठान में प्रवेश करना बहुत शुभ माना जाता है. इसलिए जो लोग दुकान या गृह प्रवेश करना चाहते हैं उन लोगों के लिए आज का दिन शुभ है.

राम नवमी पूजा मुहूर्त

ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक राम नवमी की पूजा का शुभ मुहूर्त 11.14 से 1.40 बजे तक है. क्योंकि चैत्र नवी का शुभारंभ 25 मार्च सुबह 08.08 बजे शुरु होगा और सोमवार 26 मार्च सुबह 05.26 बजे चैत्र नवमी की समाप्ति हो जाएगी. इसी के साथ नवरात्रि भी समाप्त हो जाएंगे और ग्रीष्म ऋतु की शुरुआत हो जाएगी.

First published: 25 March 2018, 10:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी