Home » धर्म » Solar Eclipse 2019: Avoid these things during Surya Grahan
 

सूर्य ग्रहण के दौरान भूल से भी न करें ये काम, बिगड़ जाएंगे बने हुए काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 December 2019, 15:11 IST

Solar Eclipse 2019 : साल 2019 का आखिरी और सबसे बड़ा सूर्य ग्रहण गुरुवार 26 दिसंबर को लगने जा रहा है. ये सूर्य ग्रहण भारत के साथ अफ्रीका, आस्ट्रेलिया और एशिया महाद्वीप के कई देशों में देखा जाएगा. बता दें कि साल का आखिरी सूर्य ग्रहण खंडग्रास है. वहीं दक्षिण भारत में कंकणाकृति सूर्य ग्रहण रहेगा. सूर्य ग्रहण से पहले सूतक काल शुरु हो जाएगा.

जो ग्रहण के 12 घंटे पहले लगेगा और ये ग्रहण के समापन तक चलेगा. ये सूर्य ग्रहण सुबह करीब 8.04 बजे से शुरू होगा. जो सुबह 10 बजकर 56 मिनट तक रहेगा. हिंदू धर्म की धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, सूतक काल में किसी भी शुभकाम करने की मनाही होती है. अगर ऐसा न किया जाए तो इसके दुष्परिणाम भुगतने पड़ेंगे.


सूर्य ग्रहण के दौरान करें ये काम-

सूर्य ग्रहण के दौरान कुछ काम करने चाहिए और कुछ कामों को बिल्कुल नहीं करना चाहिए. सूर्य ग्रहण के सूतक काल से लेकर सूर्य ग्रहण के समाप्त होने तक मंत्रों का जाप करना चाहिए. इस दौरान आप किसी भी भगवान के मंत्रों का जाप कर सकते हैं. इसके अलावा सूर्य ग्रहण का सूतक काल लगने से पहले ही खाने पीने की वस्तुओं में तुलसी का पत्ता जरूर डाल लें.

वहीं घर के छोटे बच्चों को सूर्य ग्रहण के समय अकेला नहीं छोड़ना चाहिए. इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को सूर्य ग्रहण के सूतक काल से ही घर के अंदर रहना चाहिए. जिससे सूर्य ग्रहण की छाया गर्भ पर न पड़े. इसके साथ ही घर के मंदिर के दरवाजों को सूर्य ग्रहण के दौरान बंद कर दें या परदा डाल दें.

सूर्य ग्रहण का सूतक काल समाप्त होने के बाद पीने के पानी को अवश्य बदलना चाहिए. सूर्य ग्रहण समाप्त होने के बाद स्नान करना भी शुभ माना जाता है. साथ ही स्नान के बाद साफ कपड़े पहनने चाहिए. सूर्य ग्रहण का सूतक लगने से पहले ही दान के लिए वस्तुएं निकाल लें और सूर्य ग्रहण समाप्त होने के बाद किसी जरूरतमंद को यह दान दे दें.

इन कामों को सूर्य ग्रहण के दौरान बिल्कुल न करें-

इसके अलावा कुछ का ऐसे होते हैं जिन्हें सूर्य ग्रहण के दौरान बिल्कुल नहीं करना चाहिए. सूर्य ग्रहण के सूतक काल में किसी सुनसान जगह से बिल्कुल भी न गुजरें. ऐसा इसलिए कि इस समय नकारात्मक शक्तियां अत्यंत प्रभावी हो जाती हैं. जो आपको नुकसान पहुंचा सकती हैं. इसके साथ ही सूर्य ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को खाना नहीं बनाना चाहिए. साथ ही सूईं धागे का प्रयोग करना भी वर्जित है. सूर्य ग्रहण का सूतक काल प्रारंभ होने के बाद कुछ भी नहीं खाना चाहिए. सूर्य ग्रहण शुरू होने के बाद सोना भी वर्जित है. लेकिन इस दौरान बच्चे, बीमार और वृद्ध लोग सो सकते हैं.

सूर्य ग्रहण का सूतक काल प्रारंभ होने के बाद तुलसी के पत्तों को नहीं तोड़ना चाहिए. यदि आपको तुलसी का प्रयोग करना हैं तो आप सूर्य ग्रहण के सूतक काल से पहले तुलसी के पत्तों को तोड़कर रख सकते हैं. सूर्य ग्रहण के समय भगवान की मूर्तियों को भी स्पर्श नहीं करनी चाहिए. सूर्य ग्रहण का सूतक काल लगने के बाद किसी भी प्रकार से मांस और शराब का प्रयोग नहीं करना चाहिए. इससे आपको कई प्रकार की परेशानियां हो सकती हैं. सूर्य ग्रहण को खाली आंखों से नहीं देखना चाहिए. ऐसा करने से आंखों के खराब होना का डर रहता है. सूर्य ग्रहण का सूतक लगने पर किसी भी शुभ काम को शुभ नहीं करना चाहिए. ऐसे काम करने से वो काम बिगड़ जाएगा.

सूर्य ग्रहण 2019 : 26 दिसंबर को होगा साल का आखिरी सूर्य ग्रहण, इन राशियों पर पड़ेगा प्रभाव

शनिदेव की प्रतिमा को घर पर रखने के ये हैं नुकसान, पूजा के दौरान इन बातों का रखें ध्यान

इस दिन से शुरु होगा पौष माह, सूर्य की पूजा-अर्चना करने से मिलेंगे शुभ फल

First published: 21 December 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी