Home » धर्म » Wearing Tulsi garlands or Tulsi ki Mala makes these changes come to life, we get good news from all sides
 

तुलसी की माला पहनने से जिंदगी में आते हैं ये बदलाव, हर तरफ से मिलते हैं शुभ समाचार

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 February 2021, 11:55 IST

तुलसी (Tulsi) के पत्तों के बारे में तो आपने सुना ही होगा कि तुलसी के पत्तों की चाय (Tulsi Tea) पीने से सर्दी-जुकाम (Cold) जैसी परेशानिया दूर हो जाती हैं. हिंदू संस्कृति (Hindu culture) में तुलसी को बहुत शुभ माना जाता है. इसीलिए हिंदू धर्म (Hindu Religion) को मानने वाले तुलसी की पूजा करते हैं. तुलसी का धार्मिक महत्व (Religious Value) के साथ-साथ औषधीय महत्व भी है. कहा जाता है कि जिस घर में तुलसी का पौधा होता है वह घर बहुत पवित्र होता है और घर के सदस्य मुसीबतों से बचे रहते हैं.

ऐसा माना जाता है कि घर में तुलसी का पौधा लगाने से घर में सकारात्मक ऊर्जा पैदा हो जाती है. हिंदू मान्यताओं के अनुसार तुलसी के तने और टहनियों से बनी माला पहनना भी फायदेमंद होता है. कहा जाता है कि तुलसी की माला पहनने से शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य ठीक बना रहता है. ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक, तुलसी की माला ग्रहण करने से आत्मा पवित्र रहती है. इतना ही नहीं तुलसी की माला पहनने से शरीर आरोग्य रहता है और श्रीहरि की कृपा प्राप्त होती है.


ये हैं तुलसी की माला पहनने के लाभ

बता दें कि तुलसी की माला पहनने से बीमारियां दूर हो जाती हैं. ये हमें कई गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं से भी बचा कर रखता है. ऐसा कहा जाता है कि गर्भवती महिलाओं को तुलसी की माला जरूर पहननी चाहिए इससे प्रसव वेदना कम होती है और बच्चे का जन्म भी आसानी से होता है. बता दें कि बहुत से लोग तुलसी की माला अपनी कलाई में पहनना पसंद करते हैं. ऐसा माना जाता है कि कलाई में तुलसी की माला पहनने से नब्ज कभी नहीं छूटता है और हाथ कभी भी सुन्न नहीं होता है.

ये उपाय करने से बन जाएंगे आपके सब बिगड़े काम, कर्ज का बोझ या कोई रोग हर मर्ज से मिलेगी मुक्ति

इसके अलावा हिंदू धर्म शास्त्रों के अनुसार, कमर में तुलसी की माला पहनने से पक्षाघात से बचते हैं और जिगर, तिल्ली, यौनांग और आमाश्य जैसे रोग भी नहीं होते हैं. ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, तुलसी की माला पहनने से कुंडली में बुध और गुरू ग्रह दृढ़ होते हैं. इसके अलावा जो लोग तुलसी की माला पहनते हैं उन्हें लहसून और प्याज का सेवन नहीं करना चाहिए. ऐसा करना वर्जित माना जाता है. इसके अलावा जो लोग तुलसी की माला पहनते हैं, उन लोगों को मांसाहारी खाने का सेवन नहीं करना चाहिए. ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक, तुलसी और रूद्राक्ष की माला को एकसाथ नहीं पहनना चाहिए. आध्यात्मिक और वैज्ञानिक, कारणों के वजह से ऐसा करना मना है.

मां भवानी के इस मंदिर में हर दिन होता है ये चमत्कार, जानिए घी से नहीं बल्कि इस चीज से जलती है ज्योति

First published: 24 February 2021, 11:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी