Home » धर्म » Worship Goddess Lakshmi on Dhanteras like this wealth will rain in the house
 

धनतेरस पर इन चीजों से करें मां लक्ष्मी का पूजन, घर में होगी दौलत की बारिश

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 October 2019, 15:11 IST

कल धनतेरस का त्योहार है. दिन मां लक्ष्मी और भगवान कुबेर के साथ भगवान धन्वंतरि की भी पूजा की जाती है. ऐसा माना जाता है कि इस दिन नया सामान खरीदना शुभ माना जाता है. इस दिन सोना, चांदी और बर्तनों की खरीददारी की जाती है. ऐसा माना जाता है कि धनतेरस के दिन खरीदारी करने से पूरे साल मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है. धनतेरस के मौके पर सोने की खरीदारी का विशेष प्रचलन है. इस बार धनतेरस का पर्व कल यानी शुक्रवार 25 अक्टूबर को मनाया जायेगा.

दिवाली से दो दिन पहले होने वाला धनतेरस का त्योहार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को मनाया जाता है. ऐसी मान्यता है कि इस दिन समुद्र मंथन से भगवान धन्वंतरि उत्पन्न हुए थे. इनके उत्पन्न होने के समय इनके हाथ में एक अमृत कलश था, जिस कारण धनतेरस पर बर्तन खरीदने की परंपरा शुरु हो गई. ऐसी मान्यता है कि इस दिन खरीदारी करने से संपत्ति में तेरह गुना वृद्धि होती है. धनतेरस पर कहीं-कहीं धनिया के बीज भी खरीदने की परंपरा है. उसके बाद इन बीजों को दिवाली वाले दिन अपने बाग-बगीचों में बोया जाता है.

कैसे करें धनतेरस पर मां लक्ष्मी की पूजा

धनतेरस पर मां लक्ष्मी की पूजा करने के लिए सबसे पहले एक लाल रंग का आसन बिछा लें. इसके बाद इसके बीचों बीच मुट्ठी भर अनाज रखें. अनाज के ऊपर एक कलश रखें. इस कलश में तीन चौथाई पानी भरें और थोड़ा गंगाजल मिला लें. अब कलश में सुपारी, फूल, सिक्‍का और अक्षत यानि साबुत चावल डालें. इसके बाद इसमें आम के पांच पत्ते लगाएं. अब पत्तों के ऊपर धान से भरा हुआ किसी धातु का बर्तन रखें. धान पर हल्‍दी से कमल का फूल बनाएं और उसके ऊपर मां लक्ष्‍मी की प्रतिमा रखें. साथ ही कुछ सिक्‍के भी रखें.

कलश के सामने दाहिने ओर दक्षिण पूर्व दिशा में भगवान गणेश की प्रतिमा रखें. अब एक गहरे बर्तन में मां लक्ष्‍मी की प्रतिमा रखकर उन्‍हें पंचामृत से स्‍नान कराएं. अब प्रतिमा को पोछकर वापस कलश के ऊपर रखे बर्तन में रख दें. अब मां लक्ष्‍मी की प्रतिमा को चंदन, केसर, इत्र, हल्‍दी, कुमकुम, अबीर, गुलाल, माला, मिठाई, नारियल, फल, खीले-बताशे अर्पित करें. इसके बाद प्रतिमा के ऊपर धनिया और जीरे के बीज छिड़कें. अब आप घर में जिस स्‍थान पर पैसे और जेवर रखते हैं वहां पूजा करें. इसके बाद माता लक्ष्‍मी की आरती उतारें.

बता दें कि धनतेरस के दिन धन्वंतरि का पूजन करना चाहिए. साथ ही नवीन झाडू एवं सूपड़ा खरीदकर भी उनका पूजन करना चाहिए. इस दिन शाम के समय दीपक प्रज्वलित कर घर, दुकान आदि को श्रृंगारित करना फलदायी माना जाता है. इस दिन मंदिर, गोशाला, नदी के घाट, कुओं, तालाबों और बगीचों में भी दीपक लगाना शुभ माना जाता है.

इस दिवाली भूलकर भी न करें ये 7 काम, नहीं तो झेलनी पड़ सकती हैं यह परेशानी

धनतेरस पर इस विधि से करें यमराज को दीपदान, अकाल मृत्यु से बचे रहेंगे आप

धनतेरस पर सोना और पीतल की जगर घर लाएं ये चीज, धन-दौलत की नहीं होगी कमी

First published: 24 October 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी