Home » Rio Olympics 2016 » Run up to Rio: Olympics in numbers
 

रियो ओलंपिक: आंकड़ों में खेलों का महाकुंभ

शौर्ज्य भौमिक | Updated on: 28 July 2016, 18:22 IST
(गेटी)
9.7
अरब डॉलर

रियो ओलंपिक के लिए ब्राजील सरकार ने आवंटित किये हैं.

दुनिया का सबसे पुराना और सबसे बड़ा खेल आयोजन ओलंपिक पांच अगस्त से शुरू हो रहा है. हालांकि ये खेल ब्राजील के कई शहरों में आयोजित किये जायेंगे, इसका केंद्र बिन्दु होगा ब्राजील का सबसे बड़ा शहर रियो डी जेनेरो. इसके साथ जुड़ी ख्याति और सम्मान की वजह से यह इकलौता ऐसा खेल आयोजन है जो राजनीति के रंगों से रंगे बिना पूरा ही नहीं हो पाता.

1936 के बर्लिन ओलंपिक का इस्तेमाल एडोल्फ हिटलर ने नस्ली श्रेष्ठता के अपने सिद्धांत को फैलाने के लिए किया, हालांकि एफ्रो-अमेरिकी जेसी जेम्स चार गोल्ड मेडल जीत कर हिटलर के अरमानों को चूर-चूर कर दिया. 1956 के मेलबर्न ओलंपिक से चीन ने इसलिए नाम वापस ले लिया क्योंकि इंटरनेशनल ओंलपिक कमीशन ने ताइवान को खेल के लिए अनुमति दे दी.

रियो ओलंपिक: नंबरों के जरिए जानिए खेलों के महाकुंभ में भारत का इतिहास

रंगभेद की वजह से 1960 के रोम ओलंपिक के साथ दक्षिण अफ्रीका के हिस्सा लेने पर प्रतिबंध लग गया था. 1968 में मैक्सिको सिटी ने प्रसिद्ध ‘ब्लैक पावर’ सैल्यूट देखा. और 1972 के म्यूनिख ओलंपिक को भला कोई कैसे भुला सकता है जब फिलीस्तीनी आतंकियों ने इजराइल के 11 एथलीटों को मार डाला. इस सूची का कोई अंत नहीं है. इस बार रूस पर इन खेलों से बाहर किये जाने का खतरा मंडरा रहा है.

ऐसे विवाद अक्सर खेलप्रेमियों का ध्यान खेल से ही भटका देते हैं, जो कि अफसोसजनक है क्योंकि एथलीट का कौशल नजरियों और सुर्खियों से कहीं अधिक बड़ी चीज होती है. तो ओलंपिक से जुड़ी राजनीति को पीछे छोड़ते हुए हम आपको बताते हैं रियो ओलंपिक से जुड़े कुछ रोचक आंकड़े. अब तो बस इंतजार है अपने पसंदीदा खिलाड़ियों के मैदान में उतरने का.

301

  • रियो ओलंपिक में इतने गोल्ड मेडल दिये जायेंगे.
  • सबसे अधिक 47 गोल्ड मेडल एथलेटिक्स स्पर्धाओं में दिये जायेंगे. इसके बाद तैराकी में 38, साइकिलिंग में 18 और जिमिनास्टिक्स में 18 गोल्ड दिये जायेंगे.
  • सबसे कम गोल्ड मेडल बास्केटबॉल, हॉकी, फुटबॉल, गोल्फ, हैंडबॉल और वॉटर पोलो में दिये जायेंगे. इन सभी खेलों में केवल दो-दो गोल्ड मेडल दिये जाने हैं.

43

  • गोल्ड मेडल अमेरिका जीत सकता है. खेल के आंकड़ों का विश्लेषण करने वाली कंपनी इन्फोस्ट्रेडा ने यह अनुमान लगाया है. इन्फोस्ट्रेडा विभिन्न ओलंपिक के दौरान देशों के प्रदर्शन का विश्लेषण करती रहती है.
  • इसके अनुमान के मुताबिक अमेरिका के बाद चीन को 31, रूस को 22 और ऑस्ट्रेलिया को 16 गोल्ड मेडल मिल सकते हैं.
  • सबसे अधिक 32 गोल्ड मेडल 14 अगस्त को दिये जायेंगे.
  • 2012 के लंदन ओलंपिक में अमेरिका ने 46 गोल्ड जीते थे. इसके बाद चीन ने 38 और ग्रेट ब्रिटेन और उत्तरी आयरलैंड ने मिल कर 29 गोल्ड मेडल पर कब्जा किया था.

9.7

अरब डॉलर

  • अरब डॉलर ब्राजील सरकार ने रियो ओलिंपिक के लिए आवंटित किए हैं. यह आंकड़ा पब्लिक रेडियो इंटरनेशनल, जो वैश्विक स्तर पर काम करने वाली गैरलाभकारी मीडिया कंपनी है, के मुताबिक है.
  • सबसे अधिक खर्च यातायात, प्रशासन, तकनीक, खेल-स्थलों के कामकाज और कार्यबल पर होगा.
  • इसमें वह खर्च शामिल नहीं है जो पब्लिक इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित करने के लिए किया गया है. और ओलंपिक का बजट आमतौर पर औसतन 179 फीसदी बढ़ जाता है.
  • घातक जीका वायरस, जिसने ब्राजील को बुरी तरह प्रभावित किया है, से लड़ने के लिए ब्राजील सरकार ने 0.59 अरब डॉलर आवंटित किये हैं.
  • हालांकि 2014 के फुटबॉल विश्व कप के लिए ब्राजील ने इससे भी अधिक (15 अरब डॉलर) खर्च किये थे.
  • यहां यह उल्लेख भी जरूरी है कि ब्राजील लगातार दूसरे साल आर्थिक मंदी की चपेट में है.

3.05

अरब डॉलर

  • अरब डॉलर की आमदनी इस आयोजन से होने का अनुमान है. यह आकलन ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल का है. आमदनी के स्रोत हैं- ब्रॉडकास्टिंग अधिकारों के लिए इंटरनेशनल ओलंपिक कमीशन का योगदान, स्पांसरशिप, लाइसेंसिंग और रिटेल टिकटों की बिक्री.

First published: 28 July 2016, 18:22 IST
 
शौर्ज्य भौमिक @sourjyabhowmick

संवाददाता, कैच न्यूज़, डेटा माइनिंग से प्यार. हिन्दुस्तान टाइम्स और इंडियास्पेंड में काम कर चुके हैं.

पिछली कहानी
अगली कहानी