Home » साइंस-टेक » An 'Amazon Go' ing departmental store: Pick whatever you want & just walk out, without waiting in queue
 

एक अमेजिंग डिपार्टमेंटल स्टोरः जो चाहो उठाओ और बिना पेमेंट किए निकल जाओ

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 10 February 2017, 1:41 IST

आप भी कई बार बिग बाजार, विशाल, हाइपर सिटी, रिलायंस स्टोर, स्पेंसर्स समेत तमाम डिपार्टमेंटल स्टोरों में गए होंगे. जो चाहा देखा, उठाया और घंटों समय बिताया, लेकिन जब बिलिंग के लिए लंबी कतार देखी तो माथे पर तनाव की लकीरें आ जाती हैं. यानी इतनी देर खरीदारी करने के बाद अब पेमेंट के लिए लाइन लगाओ.

ऐसे में सोचिए कितना अच्छा हो कि एक ऐसा स्टोर आपके सामने आ जाए जहां आप बेधड़क होकर अंदर घुस जाएं, जो चाहे देखें, उठाएं अपने बैग में रखें और बिलिंग के लिए लाइन में लगने के झंझट से मुक्त होकर निकल जाएं.

डेट रेप बंदः नेल पॉलिश लगाएं और बेधड़क होकर डेटिंग पर जाएं

यह सुनकर शायद आपको अजीब सा लगे लेकिन जल्द ही यह कल्पना हकीकत में तब्दील होने जा रही है. दुनिया की दिग्गज ई-कॉमर्स की कंपनी अमेजॉन अपने अमेजिंग स्टोर को लॉन्च करने जा रही है. अमेजॉन गो नाम के अपनी तरह के इस नए स्टोर की खासियत यह होगी कि इसमें किसी तरह के चेक आउट की जरूरत नहीं होगी.

अमेजॉन की मानें तो कंपनी ने दुनिया की सबसे एडवांस्ड शॉपिंग टेक्नोलॉजी को ईजाद किया है, जिसके जरिये आपको कभी भी कतार में इंतजार नहीं करना पड़ेगा. 

कैसे करेगा अमेजॉन गो काम

इसके लिए आपको स्मार्टफोन में अमेजॉन गो ऐप इंस्टॉल करना होगा. इससके बाद जस्ट वॉक आउट टेक्नोलॉजी के जरिये आप किसी भी अमेजॉन गो स्टोर में चेक इन करिये यानी स्टोर के एंट्रेंस में लगे इलेक्ट्रिक गेट पर मोबाइल टच कराइए.

स्टोर में जाकर अपना मनचाहा सामान चुनिए, देखिए और अपने बैग में डाल लीजिए. इस दौरान अमेजॉन ऐप सभी अलमारियों से उठाए जाने वाले सामान को आपकी वर्चुअल कार्ट (ऑनलाइन टोकरी) में जोड़ देता है और जैसे ही आप उसे वापस रखते हैं, हटा देता है.

जानिए क्यों एडिडास इस जूते के केवल 7,000 जोड़ियां ही बेचेगा दुनिया में?

जब आप अपनी शॉपिंग कर लें तो आप बिना रुके बाहर जा सकते हैं. कंपनी आपके अमेजॉन अकाउंट में आपकी खरीदारी की रसीद भेज देगी, जिसका आपको भुगतान करना होगा.

कौन सी तकनीक काम करती है

अमेजॉन ने चेकआउट फ्री शॉपिंग के अनुभव को सजीव बनाने के लिए सेल्फ ड्राइविंग कार जैसी तकनीक को अपनाया है. मसलन कंप्यूटर विजन, सेंसर फ्यूजन और डीप लर्निंग. यह तकनीक मोबाइल यूजर्स की गतिविधियों, हरेक अलमारी में रखे सामान और अलमारी को भांपती रहती है और आपने क्या खरीदा, इसकी जानकारी सुनिश्चित करती है.

यह स्टोर करीब 1,800 वर्ग फीट का है और इसे ऐसे स्थानों पर खोला जाना है जहां ग्राहक आसानी से आ-जा सकें. इसके लिए ग्राहक को अमेजॉन अकाउंट, ऐप सपोर्ट करने वाला स्मार्टफोन और फ्री अमेजॉन गो ऐप चाहिए होगा. 

कहां पर है स्टोर

अमेरिका के वाशिंगटन स्थित सिएटल में यह स्टोर है. फिलहाल यह बीटा प्रोग्राम (परीक्षण कार्यक्रम) अमेजॉन के कर्मचारियों के लिए ही है और इसे सार्वजनिक रूप से 2017 में खोला जाएगा. शुरुआत में इस स्टोर पर रेडी-टू-ईट ब्रेकफास्ट, लंच, डिनर और रोजाना के ताजे स्नैक्स मिलेंगे. इसके साथ ही रोजमर्रा के जरूरी सामान जैसे दूध, ब्रेड, चॉकलेट समेत कुछ अन्य सामान बिक्री के लिए रखा जाएगा.

First published: 6 December 2016, 6:12 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियोंं-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी