Home » साइंस-टेक » Apple apologises to customers & offering discount of $50 on replacement batteries for iPhone 6 & later phones, Tim Cook
 

Apple ने मांगी ग्राहकों से माफी, बैटरी बदलने पर दे रही भारी छूट

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 December 2017, 14:56 IST

दुनिया की दिग्गज तकनीकी कंपनी Apple के मुखिया टिम कुक ने बृहस्पतिवार को अपने ग्राहकों से माफी मांगी. इसकी वजह इस बात का स्पष्टीकरण न दिया जाना था कि कंपनी बैटरी की उम्र बढ़ने के साथ ही iPhone धीमे कर देती है. इसके अलावा कंपनी ने iPhone की बैटरी बदलने पर छूट देने की भी पेशकश की.

कुक ने वादा किया कि भविष्य में Apple अपने यूजर्स को फोन की बैटरी की सेहत के बारे में जानकारी रखने के लिए ज्यादा सहूलियत देगा और लोग देख सकेंगे कि क्या उनकी पुरानी बैटरी, फोन की क्षमता को प्रभावित कर रही है.

अपनी वेबसाइट पर दिए गए स्पष्टीकरण में Apple ने घोषणा की कि वो किसी भी यूजर के iPhone 6 या इसके बाद के किसी भी फोन की बैटरी बदलने पर डिस्काउंट देगी. कंपनी की बैटरी रिप्लेसमेंट स्कीम जनवरी 2018 के अंत से शुरू होगी. इसमें 79 डॉलर में बदली जाने वाली बैटरी पर कंपनी 50 डॉलर की छूट देगी और इसे केवल 29 डॉलर में बदलेगी.

माफी मांगने के संदेश के बावजूद टिम कुक ने उन आरोपों का खंडन किया जिनमें कहा जा रहा है कि Apple पुरानी बैटरी वाले फोनों को धीमा कर देता है ताकि इन्हें रखने वाले लोग नए फोन खरीदें. उन्होंने कहा, "सबसे पहले हमने न कभी ऐसा किया है और न ही करेंगे कि जानबूझकर किसी Apple प्रोडक्ट का जीवन कम हो या फिर यूजर का अनुभव डिग्रेड किया जाए ताकि ग्राहक को अपग्रेड करना पड़े."

एप्पल द्वारा ग्राहकों के लिए लिखा गया पत्र (www.apple.com)

इससे पहले कंपनी ने कहा था कि जब तक की यह फोन की क्षमता को कम करें, पुरानी बैटरी वाले फोनों के एकदम से शट डाउन (बंद) होने का जोखिम रहता है. इस बात का तकनीकी आशय है, यह कई विशेषज्ञों ने भी माना.

पिछले सप्ताह Apple के बारे में यह खुलासा हुआ था कि कंपनी अपने पुराने फोनों को धीमा कर देती है ताकि लोग नए फोन खरीदने की ओर प्रेरित हों, के बाद काफी आलोचना हुई थी और कंपनी के खिलाफ मुकदमे भी हुए थे. एक फ्रांसीसी उपभोक्ता अधिकार संगठन ने इस बाबत 27 दिसंबर को एक मुकदमा भी दायर किया था. हालांकि बाद में कंपनी ने यह सुनिश्चित किया था कि जिन iPhone की बैटरी पुरानी हो जाती है, उनकी क्षमता पर थोड़ा असर पड़ता है.

वहीं, Apple ने iPhone बैटरियों और इसकी प्रदर्शन क्षमता को लेकर अपने ग्राहकों को लिखे पत्र में बताया कि उन्हें ग्राहकों से इस संबंध में प्रतिक्रिया मिल रही थी कि कैसे हम पुरानी बैटरियों वाले अपने iPhons की क्षमता तय करते हैं, और इस बारे में हमने प्रक्रिया बताई थी.

इसमें लिखा गया, "हमें पता है कि आप में से कुछ को लगता है कि Apple ने आपको धोखा दिया है. हम माफी मांगते हैं. इस मामले को लेकर काफी ज्यादा गलतफहमियां हैं, इसलिए हम आपको इस बारे में स्पष्टीकरण देते हैं और यह बताते हैं कि हम क्या बदलाव करने वाले हैं."

कंपनी ने आगे बताया कि सभी रिचार्जेबल बैटरियां खर्च होती है और जैसे-जैसे उनके अंदर पड़ा केमिकल पुराना होता वे कम प्रभावी हो जाती हैं और उनके अंदर चार्जिंग बनाए रखने की क्षमता कम हो जाती है. डिवाइस का इस्तेमाल भी इसके जीवनकाल में बैटरी के प्रदर्शन को प्रभावित करता है. जैसे, गर्म वातावरण में बैटरी रखने या चार्जिंग करने से बैटरी की उम्र तेजी से बढ़ती है. यह बैटरी की केमेस्ट्री के लक्षण हैं जो इंडस्ट्री में प्रयोग होने वाली लीथियम-ऑयन बैटरियों के साथ आम बात है.

First published: 29 December 2017, 14:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी