Home » साइंस-टेक » Apple iPhone 7: Users have to pay high amount for wireless AirPods
 

एप्पल आईफोन 7: वायरलेस एयरपॉड्स के लिए चुकानी होगी भारी कीमत

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST

एप्पल ने आखिरकार अपने बहुतप्रतीक्षित फ्लैगशिप मॉडल आईफोन 7 को सितंबर की सात तारीख को लॉन्च ही कर दिया. इसके साथ ही एप्पल ने नए वायरलेस ईयरफोन एयरपॉड्स को भी लॉन्च किया है, जो कॉलिंग, म्यूजिक आदि का बेहद शानदार अनुभव देंगे.

चूंकि एप्पल ने अपने नए आईफोन 7 से 3.5 एमएम का यूनिवर्सल ऑडियो जैक हटा दिया है इसलिए यह एयरपॉड्स यूजर्स को काफी सहूलियत देंगे. यह ईयरफोन्स के तारों को इस्तेमाल करने पहले सुलझाने की बड़ी समस्या का भी समाधान कर देंगे. साथ ही एक ही वक्त में दो लोग अलग-अलग कुर्सी पर बैठ कर भी इनसे आवाज सुन सकेंगे.

पुराने आईफोन के मुकाबले 40 गुना तेज होगा आईफोन 7, जानिए नए फीचर्स

जाहिर है हर आईफोन 7 यूजर इन एयरपॉड्स का इस्तेमाल करना चाहता है. लेकिन यह एयरपॉड्स आईफोन 7 के साथ बंडल्ड नहीं आएंगे. एप्पल नेे एयरपॉड्स को एक एक्सेसरीज के रूप में लॉन्च किया है. इसका मतलब कि ग्राहकों को यह एयरपॉड्स ईयरफोन अलग से खरीदने होंगे.

जहां 32 जीबी वाले आईफोन 7 मॉडल की कीमत 649 अमेरिकी डॉलर (करीब 43,000 रुपये) और आईफोन 7 प्लस की 769 अमेरिकी डॉलर (करीब 51,000 रुपये) रखी गई है, यह एयरपॉड्स इनके साथ नहीं दिए जा रहे हैं. अमेरिका में इन एयरपॉड्स की कीमत 159 डॉलर यानी करीब 10,556 रुपये रखी गई है. 

रिलायंस जियोः मोबाइल डाटा के साथ ही बंद हो जाएगी इनकमिंग

जब अमेरिका में आईफोन 7 की 43 हजार रुपये कीमत की तुलना में भारत में इसकी कीमत 60 हजार रुपये रखी गई है, तो इस हिसाब से अमेरिकी डॉलर में 10,556 रुपये वाले यह एयरपॉड्स भारत में तकरीबन 15 हजार रुपये कीमत में मिलने चाहिए.

वैसे आईफोन यूजर्स कीमत की उतनी परवाह नहीं करते, लेकिन फोन की करीब एक चौथाई कीमत में आईपॉड्स खरीदने वाले कितने होंगे, यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा.

जानिए एयरपॉड्स की खूबियां

  • सबसे पहले तो यह जान लें कि यह अक्टूबर के आखिर में मिलने शुरू होंगे.
  • एक पेयर में आने वाले एयरपॉड्स का सेटअप बेहद आसान है और इसके लिए केवल सिंगल टैप करने की जरूरत होती है.
  • यह एयरपॉड्स खुद से सेंस (पता) कर लेते हैं कि कब यह आपके कान में लगे हैं और कब नहीं.
  • यह आईफोन के अलावा आपके आईपैड, एप्पल वॉच या मैक से भी स्वतः ही जुड़ जाते हैं.
  • एयरपॉड्स के जरिये एप्पल आईओएस असिस्टेंट सीरी से कुछ भी जाना जा सकता है. इसके लिए यूजर को किसी भी एयरपॉड्स को डबल टैप करना होगा और यूजर बिना फोन को जेब से निकाले या छुए जानकारी ले सकता है.
  • यूजर एयरपॉड्स के जरिये कॉल माई मॉम, प्ले माई फेवरेट सॉन्ग, टर्न अप द वॉल्यूम, हाऊ डू आई गेट टू द जू समेत तमाम जानकारियां पाने के साथ वो काम कर सकता है. 
  • अपनी तरह के बेहतरीन एयरपॉड्स को बनाने के लिए एप्पल ने डब्लू1 चिप को विशेषरूप से डिजाइन किया है. यह बेहतरीन आवाज, बैटरी लाइफ मैनेजमेंट की भी देखभाल करती है.
  • एक बार फुल चार्ज होने पर एयरपॉड्स से 5 घंटे तक गानें सुने जा सकते हैं.
  • इनमें लगा वॉयस एक्सेलोमीटर पता कर लेता है कि कब आप बातचीत कर रहे हैं ताकि वो इनमें लगे माइक्रोफोन की आवाज को और ज्यादा बेहतर बनाने के साथ बाहर से आने वाले शोर को कम कर सके.
  • यह एयरपॉड्स ऑप्टिकल सेंसर और मोशन एक्सेलोमीटर के साथ आते हैं जिससे यूजर चाहे तो एक ही वक्त में दोनों या एक एयरपॉड से म्यूजिक सुन सकता है. 
  • इनका विशेषरूप से डिजाइन चार्जिंग केस 24 घंटे अतिरिक्त चार्जिंग करने में सक्षम रहता है. यह क्विक चार्ज को भी सपोर्ट करता है ताकि केवल 15 मिनट में इन केस में एयरपॉड्स को रखने के बाद यह 3 घंटे तक चल सकें.
  • एयरपॉड्स की बैटरी चेक करने के लिए इन्हें अपने आईफोन के बगल में रखकर सीरी से पूछें कि मेरे एयरपॉड्स की बैटरी कितनी है.
  • एप्पल ने अमेरिका में इनकी कीमत 159 डॉलर रखी है.

First published: 8 September 2016, 2:44 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियोंं-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी