Home » साइंस-टेक » Apple launches new 9.7-inch iPad with Apple Pencil, a companion for students, focuses on education sector & to compete with Google Chromeboo
 

Google-Microsoft को चुनौती देने के लिए Apple लाया नया iPad

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 28 March 2018, 15:47 IST
(Twitter)

दुनिया की दिग्गज तकनीकी कंपनी Apple ने मंगलवार को शिकागो में आयोजित एजुकेशन इवेंट में क्लासरूम सॉफ्टवेयर को ध्यान में रखते हुए अब तक के सबसे सस्ते 9.7 iPad की लॉन्चिंग की. Apple का यह कदम एजुकेशन सेक्टर में पैठ जमाए Microsoft और Google को टक्कर देने के लिए उठाया गया है.

Apple ने एजुकेशन सेक्टर में ज्यादा पकड़ बनाने के लिए अपने iWork suite में भी कई सुधार किए जाने की घोषणा की. अपडेटेड iWork में वर्ड प्रोसेसिंग, स्प्रेडशीट और प्रजेंटेशन सॉफ्टवेयर्स भी जोड़े गए हैं जो स्टूडेंट्स को आसानी से हाथ से लिखे गए नोट्स को जोड़ने मेें मदद करता है.

इसके अलावा Apple ने एक नए ऐप Schoolwork को भी रिलीज किया जिसका मकसद शिक्षकों को एसाइनमेंट बनाने में मदद करने के साथ ही स्टूडेंट्स की प्रोग्रेस को ट्रैक करना है. इसके अलावा Apple ने यह भी कहा कि पहले से iPad फोकस्ड क्लासरूम टीचर एडमिनिस्ट्रेशन ऐप आगामी जून से Mac कंप्यूटर्स पर काम करना शुरू कर देगा.

वहीं, इस साल कंपनी 'एवरीवन कैन क्रिएट' लेसंस भी जारी करेगा ताकि हर कोई वीडियो, फोटोग्राफी, म्यूजिक, ड्राइंग को आसानी से सीख सके.

वहीं, Apple ने यह अपने सस्ते iPad की घोषणा ऐसे वक्त की है जब आने वाले नए स्कूल सेशन के लिए खरीदारी जोरों पर है, ताकि नए सत्र के लिए स्कूल-स्टूडेंट्स Google की क्रोमबुक या Microsoft की नोटबुक खरीदने के बजाए iPad खरीदें.

अब अगर बात करें विशेषताओं की तो दिन भर चलने वाली बैटरी और रेटिना डिस्प्ले के साथ आने वाला यह नया iPad Apple की A10 फ्यूजन चिप से लैस है, जिसका इस्तेमाल iPhone 7, iPhone 7 Plus में भी किया गया है.

इस लेटेस्ट iPad में Apple का बनाया 64-बिट आर्किटेक्चर और 16nm प्रोसेस टेक्नोलॉजी से लैस क्वॉडकोर प्रोसेसर लगा हुआ है. कंपनी ने इसे क्लासरूम्स और स्टूडेंट्स को केंद्रित करते हुए पेश किया है और इसमें Apple Pencil स्टाइलस भी है, जिसे सबसे पहले iPad Pro के साथ दिया गया था.

इस iPad में प्रेशर और टिल्ट भांपने वाले सेंसर्स दिए गए हैं. साथ ही Apple Pencil का इस्तेमाल करते वक्त यूजर स्क्रीन पर अपनी हथेली भी रख सकता है, जिसके लिए इसमें Palm Rejection Technology का प्रयोग किया गया है. कंपनी ने इसकी लॉन्चिंग के दौरान पेंसिल के लिए विशेष रूप से बनाए गए ऐप जैसे Smart Annotation, Froggipedia भी पेश किए.

हालांकि कंपनी iPad के साथ Apple Pencil नहीं दे रही है और यूजर्स को इसे अलग से 7,600 रुपये में खरीदना होगा. वहीं, फोटोग्राफी के लिए 2018 iPad मेें 8 मेगापिक्सल का प्राइमरी रीयर कैमरा जबकि फ्रंट में HD FcaeTime कैमरा दिया गया है. कंपनी का कहना है कि दोनों ही कैमरा कम रोशनी में बेहतर तस्वीर खींचने के लिए ऑप्टिमाइज्ड किए गए हैं. यह iPad AR ऐप्स को भी सपोर्ट करता है.

वहीं, कनेक्टिविटी के लिए यह केवल वाई-फाई और वाई-फाई के साथ सेल्यूलर वैरिएंट्स में आता है. Apple का दावा है कि यह डिवाइस अल्ट्राफास्ट वायरलेस फीचर से लैस है जिससे सेल्युलर डाटा कनेक्शन की तुलना में दोगुनी तेज स्पीड मिलती है. इस नए iPad में Apple SIM फीचर भी है जिसके जरिये यूजर 180 से ज्यादा देशों में सफर करने के दौरान वायरलेस डाटा प्लान से कनेक्ट कर सकता है.

लेटेस्ट 2018 iPad में iOS 11 ऑपरेटिंग सिस्टम है, जो यूजर को बेहतर मल्टीटास्किंग, कस्टमाइजेबल डॉक को आसानी से इस्तेमाल का मौका देता है. कंपनी ने इसमें एजुकेशन ऐप्स के अनुभव को बेहतर बनाने के लिए कई कस्टमाइजेशन किए हैं.

First published: 28 March 2018, 15:47 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

अगली कहानी