Home » साइंस-टेक » Apple now gets permission to test self drive cars
 

Apple को मिली सेल्फ-ड्राइविंग कारों के परीक्षण की अनुमति

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 April 2017, 13:25 IST

काफी वक्त से चली आ रही अटकलों पर आखिरकार विराम लग गया है और यह बात साफ हो गई है कि दुनिया की प्रमुख तकनीकी कंपनी Apple ऑटोमोटिव टेक्नोलॉजी पर काम कर रही है. अब Apple को अमेरिका के कैलीफोर्निया द्वारा सेल्फ ड्राइविंग कारों के परीक्षण की अनुमति दे दी गई है.

इस अनुमति के जरिये Apple को 2015 की लेक्सस एसयूवी जैसे तीन वाहनों के परीक्षण करने की छूट मिल गई है और यह वही तकनीक है जिसे Google अपनी ऑटोनॉमस कार में इस्तेमाल कर रहा है.

कैलीफोर्निया डिपार्टमेंट ऑफ मोटर व्हीकल्स (DMV) से अनापत्ति मिलने के बाद Apple ने यह स्पष्ट तौर पर जाहिर कर दिया है कि वो सेल्फ ड्राइविंग टेक्नोलॉजी को आगे ले जाने के लिए कितनी गंभीर है. हालांकि पहले खबरें आई थीं कि Apple अपनी इस महात्वाकांक्षा से पीछे हट रही है.

 

शुक्रवार को कैलीफोर्निया DMV ने अपनी वेबसाइट पर Apple को दी गई स्वीकृति संबंधी सूचना को प्रकाशित कर दिया. इस सूची में Apple के अलावा सेल्फ ड्राइव टेक्नोलॉजी पर काम करने वाली कई कंपनियों में फोर्ड, बीएमडब्लू, निशान, हॉन्डा और उबर का भी नाम लिखआ हुआ है.

अन्य कंपनियों की ही तरह जब Apple की सेल्फ ड्राइव टेस्टिंग कार कैलीफोर्निया की सड़कों पर चलेगी तो इनमें भी स्टीयरिंग के पीछे एक प्रशिक्षित ड्राइवर बैठा होगा.

इससे पहले कई सालों से Apple के ऑटोमोटिव प्रोजेक्ट को लेकर जानकारियां सामने आ रही थी लेकिन कंपनी अपनी योजना को गुप्त बनाए रही. तकनीकी पर नजर गड़ाए रखने वालों के बीच यह बात एक खुला खत सा बन गई लेकिन फिर भी यह कभी स्पष्ट नहीं हो सका कि Apple किस पर काम कर रही है.

 

इस योजना को लेकर तमाम नाम भी सामने आते रहे जिनमें बताया गया है कि इसका नाम Apple Car, iCar, Project Titan हो सकता है.

कुछ विशेषज्ञों ने कहा था कि Apple ड्राइव की जाने वाली कार लाने वाली है तो कुछ ने कहा कि कंपनी कार की जगह एक ऐसे सॉफ्टवेयर पर काम कर रही है जो इसे कंट्रोल करे या फिर इसे कार में लगाते ही सामान्य कार को ऑटोमैटिक में तब्दील कर दे.

First published: 15 April 2017, 13:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी