Home » साइंस-टेक » Apple self drive electric vehicle iCar could be launched in 2020, development fast
 

जानिए कब लॉन्च होगी एप्पल की सेल्फ ड्राइविंग इलेक्ट्रिक iCar

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 January 2017, 19:22 IST

माना जा रहा है कि एप्पल फिलहाल एक कार परियोजना पर काम कर रही है जिसका कोड नेम 'टाइटन' है. उम्मीद जताई जा रही है कि यह कार टेस्ला को कड़ी टक्कर देगी. एप्पल मौजूदा वक्त में एक इलेक्ट्रिक व्हीकल iCar पर काम कर रही है, जिसको लेकर काफी शोध-विकास कार्य किया जा रहा है. 

मैकवर्ल्ड वेबसाइट में छपी खबर की मानें तो एप्पल ने कनाडा में इस ऑटोनॉमस कार के ऑपरेटिंग सिस्टम प्रोजेक्ट के  लिए ब्लैकबेरी से भी कई इंजीनियर्स को नियुक्त किया है. 

मिलिए दुनिया की सबसे तेज रफ्तार, समझदार और सेल्फ ड्राइविंग इलेक्ट्रिक कार FF91 से

रिपोर्ट बताती हैं कि यह iCar दिखने में मिनी वैन की तरह होगी और 2020 तक इसका निर्माण शुरू कर दिया जाएगा. एप्पल ने इसके रिसर्च एंड डेवलपमेंट पर करीब 10 बिलियन डॉलर्स का भी निवेश किया है.

हाल ही में एप्पल इंक में प्रोडक्शन इंटिग्रिटी के निदेशक स्टीव केन्नर ने अमेरिकी ट्रांसपोर्ट रेगुलेटर्स को एक पत्र लिखकर ऑटोनॉमस कार और इससे जुड़े नियम की जानकारी ली. 

जानिए किन दो कामों के लिए कार सीट में हेडरेस्ट लगा होता है

इस पत्र में उन्होंने लिखा कि सेल्फ ड्राइविंग व्हीकल्स के लिए बहुत ज्यादा नियम और कानून नहीं होने चाहिए और इसमें आने वाली नई कंपनियों के साथ भी पहले से मौजूद निर्माताओं की ही तरह व्यवहार किया जाना चाहिए.

उन्होंने यह भी कहा कि इन सिस्टम को ज्यादा बेहतर बनाने के लिए कंपनियों को चाहिए वे क्रैश और अन्य कमियों से जुड़े आकड़ों को दूसरों के साथ साझा करें. 

मूड, म्यूजिक और माहौल के मुताबिक रंग बदलती कार

फाइनेंसियल टाइम्स के मुताबिक एप्पल अपनी iCar परियोजना को और बेहतर बनाने के लिए मैकलॉरेन को भी खरीदने पर विचार कर रही है, क्योंकि मैकलॉरेन के एप्लाइड टेक्नोलॉजीज ग्रुप द्वारा फॉर्मूला 1 और नास्कार आदि को इलेक्ट्रॉनिक्स सप्लाई की जाती है. इस वजह से मैकलॉरेन एप्पल की सेल्फ ड्राइव इलेक्ट्रिक कार के लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकती है.

इससे पहले अगस्त 2016 में एप्पल ने दक्षिण कोरियाई बैटरी निर्माता कंपनी के साथ एक समझौता किया था, जिसके अंतर्गत सिलिंड्रिकल लीथियम ऑयन बैटरी का निर्माण किया जाएगा. संभावना जताई जा रही है कि एप्पल की नई ड्राइवरलेस कार में इन्हीं बैटरियों का इस्तेमाल किया जा सकता है.

बीएमडब्लू ने पेश की जेम्स बॉन्ड की फिल्म जैसी मोबाइल ऑपरेटेड कार

फिलहाल एप्पल की iCar निर्माणाधीन हैं और कहा जा रहा है कि 2019 में इसे पहली बार सबके सामने पेश किया जाएगा और यह 2020-21 से बिक्री के लिए उपलब्ध करा दी जाएगी. 

यहां एक रोचक बात यह है कि एप्पल की iCar के सामने भविष्य की चुनौतियों में अन्य कार निर्माता नहीं होंगे बल्कि गूगल जैसी कंपनियां होंगी. इससे पहले कंपनी एप्पल कार से जुड़े कई डोमेन बुक करा चुकी है. 

कार चलाते समय कभी न करें ये पांच गलतियां

First published: 23 January 2017, 19:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी