Home » साइंस-टेक » Bad news for yahoo users: Do check whether your name isn't there in 500 million hacked account
 

याहू यूजर्स के लिए बुरी खबरः देखिए कहीं 50 करोड़ हैक अकाउंट में आपका नाम तो नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 September 2016, 13:22 IST

याहू यूजर्स के लिए एक बुरी खबर है. अगर आपका भी अकाउंट याहू पर है तो जांच लें कि कहीं आपका अकाउंट भी हैक तो नहीं हो गया. याहू ने बृहस्पतिवार को खुलासा किया है कि उसके 50 करोड़ अकाउंट हैक कर लिए गए हैं. यह इतिहास की सबसे बड़ी हैकिंग की घटना है. 

वाशिंगटन पोस्ट में छपी खबर के मुताबिक याहू ने यह घोषणा ऑनलाइन हमलों के संकेत मिलने के कुछ माह बाद करते हुए इसपर 'स्टेट स्पॉन्सर्ड' (राष्ट्र द्वारा प्रायोजित) होने का आरोप लगाया है. इसके बाद दिग्गज ऑनलाइन कंपनी ने अपने यूजर्स से आग्रह किया है कि वे अपने पासवर्ड बदल लें और इसके साथ ही सुरक्षा के अन्य उपाय भी अपनाएं. 

हालांकि इस जानकारी की पुष्टि करने के बाद सबसे ज्यादा संकट खुद याहू के ऊपर मंडराने लगा है क्योंकि इन गर्मियों में अपने पूरे कोर बिजनेस को टेलीकॉम दिग्गज वेरीजॉन को बेचने की सहमति जता चुकी थी, लेकिन अब इस सौदे पर संदेह के बादल छा गए हैं. वेरिजॉन का कहना है कि उसे केवल बीते दो दिनों में ही इस घटना की जानकारी हुई.

सेलः महज एक डॉलर में हैकर बेच रहे ईमेल और पासवर्ड

वहीं, हैकिंग की इस घोषणा के वक्त ने भी शंका खड़ी की है क्योंकि सामान्यता कंपनियां खातों में सेंध लगाने की घटना की पुष्टि होने की घोषणा महीनों और कई बार सालों में करती हैं. 

याहू को इस घटना की जानकारी जुलाई में हुई और इसी माह कंपनी ने वेरीजॉन के साथ अपने सौदे की जानकारी को सार्वजनिक किया था. हालांकि याहू ने हैकिंग की घटना की जानकारी कब हुई यह बताने से इनकार कर दिया है.

याहू के मुताबिक उसके यूजर्स अकाउंट्स में यह हमले 2014 से शुरू हुए थे. 50 करोड़ यूजर्स के अकाउंट हैक होने की जानकारी को विशेषज्ञों द्वारा ऑनलाइन इतिहास की सबसे बड़ी हैकिंग की घटना बताया जा रहा है. 

ये तरीके अपनाएं फेसबुक पर खुद को सेफ रखने के लिए

विशेषज्ञों के मुताबिक यूजर्स को चाहिए कि वे याहू के अलावा भी अपने अन्य खातों की सुरक्षा के पुख्ता कदम स्वयं उठाएं. यूजर्स को चाहिए कि वेे अपने अकाउंट्स पासवर्ड एक जैसे न रखें, काफी गंभीरता से जटिल पासवर्ड चुनें, काफी सोच-विचार के बाद कठिन सिक्योरिटी क्वेश्चंस और ऑन्सर तय करें. यूजर्स को चाहिए कि वे अपने हर अकाउंट के लिए अलग पासवर्ड, सुरक्षा सवाल-जवाब रखें. 

ऑनलाइन विशेषज्ञों का कहना है कि अगर हैकर्स के पास याहू के खातों की जानकारी पहुंच गई है तो बहुत संभावना है कि वे यूजर्स के दूसरे खातों में जाकर इनकी बदौलत घुसपैठ की कोशिश करें.

याहू के मुख्य सूचना सुरक्षा अधिकारी बॉब लॉर्ड ने एक ब्लॉग में लिखा, "यूजर्स के नाम, ईमेल पते, टेलीफोन नंबर, जन्म तिथि और सिक्योरिटी क्वेशचंस के ऑन्सर चुराए जाने की संभावना है लेकिन फाइनेंसियल इंफॉर्मेशन जैसे क्रेडिट कार्ड संख्या आदि वेे नहीं हासिल कर पाएं होंगे क्योंकि इस डाटा को एक अलग सिस्टम पर सुरक्षित रखा जाता है."

First published: 23 September 2016, 13:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी