Home » साइंस-टेक » Cookieminer malware steals your password and credit cards details from google chrome and safari browser
 

Google Chrome से आपके पासवर्ड और क्रेडिट कार्ड की जानकारी चोरी कर रहा है ये मालवेयर

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 February 2019, 23:11 IST

अगर आप सोचते हैं कि मालवेयर यानि वायरस आपके कम्प्यूटर और लैपटॉप को ही नुकसान पहुंचाते हैं तो आप गलत हैं क्योंकि ये आपके कई और भी तरीकों से नुकसान पहुंचा रहे हैं. दरअसल, वैश्विक साइबर सिक्योरिटी कंपनी पालो आल्टो ने एक मालवेयर की खोज की है जो गूगल क्रोम में सेव किए गए यूजरनेम और पासवर्ड्स, इसके अलावा क्रोम में सेव की गई क्रेडिट कार्ड की जानकारियां और मैक में बैकअप लेने पर आईफोन्स के टैक्स्ट मैसेज हैक कर सकता है.

खबरों के मुताबिक पालो आल्टो नेटवर्क्स के एक अंग यूनिट 42 ने कहा कि कुकीमाइनर नाम का मालवेयर मेनस्ट्रीम क्रिप्टोकरंसी एक्सचेंजेस के साथ जुड़ीं ब्राउजर कुकीज और शिकार द्वारा विजिट की गईं वैलट सर्विस वेबसाइट्स को चुराने में सक्षम है.

बता दें कि यह क्रोम में सेव पासवर्ड्स और मैक पर आईट्यून्स बैकअप्स लेने से आईफोन्स के टैक्स्ट मैसेज चुराता है. अध्ययनकर्ताओं ने बताया, “इसी प्रकार के पिछले हमलों के आधार पर, चोरी की गई लॉग-इन जानकारी, वेब कुकीज और एसएमएस डाटा के संयोजन का लाभ उठाकर, हम मानते हैं कि बुरे कारक इन साइटों के लिए बहु-कारकीय प्रमाणीकरण का मार्ग बदल सकते हैं."

उन्होंने कहा है कि हमलावर अगर सफल होते हैं तो वे शिकार के एक्सचेंज खाते और वैलट पर पूरा नियंत्रण कर लेते हैं और शिकार के फंड का उपयोग करने के अधिकारी हो जाते हैं क्योंकि वे खुद यूजर बन चुके होते हैं.

बता दें कि मालवेयर सिस्टम पर कॉइनमाइनिंग सॉफ्टवेयर लोड करने के लिए सिस्टम को कंफीगर भी करता है. वेब कुकीज का प्रमाणीकरण में व्यापक उपयोग होता है. कोई यूजर जब किसी वेबसाइट में लॉग-इन करता है तो लॉग-इन स्टेटस जानने के लिए उसकी कुकीज वेब सर्वर के लिए स्टोर हो जाती है.

WhatsApp आपको देगा 1.8 करोड़ रुपये, बस करना होगा ये काम

First published: 1 February 2019, 23:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी