Home » साइंस-टेक » Corning Gorilla Glass 5 launched, Can survive drops up to 1.6 meter
 

1.6 मीटर ऊंचाई से गिरने पर भी नहीं टूटेगा कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST

मोबाइल डिवाइसों के लिए ग्लास बनाने वाली मशहूर कंपनी कॉर्निंग ने महत्वपूर्ण स्मार्टफोनों के लिए अपने नए गोरिल्ला ग्लास 5 को पेश किया है. कंपनी का कहना है कि प्रयोगशाला में परीक्षण के दौरान नीचे की तरफ ग्लास करके 1.6 मीटर तक की ऊंचाई से गिराए जाने पर 80 फीसदी मामलों में यह नहीं टूटा.

कॉर्निंग का दावा है कि उसने इसे समतल, ऊबड़-खाबड़, सख्त, नर्म जैसी तमाम सतहों पर गिराकर टेस्ट किया गया है. अब कंपनी ने व्यावसायिक रूप से इसे जारी कर दिया है और इस साल के अंत तक आने वाली कुछ डिवाइसों में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है.

बिना कोई बटन छुए अपने एंड्रॉयड स्मार्टफोन को ऑन करें

कॉर्निंग के मुताबिक अब तक दुनिया भर के 40 प्रमुख ब्रांड्स के 1,800 मॉडल्स की 450 करोड़ डिवाइसों में गोरिल्ला ग्लास का इस्तेमाल किया जा चुका है. मालूम हो कि गोरिल्ला ग्लास 4 की लॉन्चिंग के करीब दो साल बाद कंपनी गोरिल्ला ग्लास 5 लेकर सामने आई है.

कंपनी ने इस बात पर जोर दिया कि गोरिल्ला ग्लास 5 का निर्माण स्क्रीन टूटने वाली ग्राहकों की सबसे बड़ी समस्या को ध्यान में रखते हुए किया गया है. स्क्रीन टूटने के मुद्दे के अलावा गोरिल्ला ग्लास 5 'कवर ग्लास' भी मुहैया कराएगा जो टच, टाइप और स्वाइप के लिए भी बेहतर साबित होगा.

मोबाइल डाटा प्राइसवार शुरूः एयरटेल की स्कीम के बाद आइडिया ने दामों में की कटौती

जरूर गिरता है 85 फीसदी यूजर्स का स्मार्टफोन

टोलुना के क्विकसर्वे पैनल पर आधारित एक शोध की मानें तो 85 फीसदी यूजर्स का स्मार्टफोन साल में एक बार जरूर गिरता है, जबकि 55 फीसदी का तीन या ज्यादा बार गिरता है.

जानें बारिश के मौसम में इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स की सुरक्षा के सात तरीके

इस शोध में बताया गया कि 60 फीसदी से ज्यादा यूजर्स द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक उनका स्मार्टफोन कमर से लेकर कंधे की ऊंचाई से गिरा. इस शोध में अमेरिका, ब्राजील, फ्रांस, जर्मनी और भारत समेत तमाम मुल्कों को शामिल किया गया था.

First published: 21 July 2016, 2:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी