Home » साइंस-टेक » This mobile app will make you follow social distancing, alert you when you go closer
 

coronavirus: ये मोबाइल ऐप फॉलो करवाएगा आपसे सोशल डिस्टेंसिंग, ज्यादा करीब जाने पर करेगा अलर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 April 2020, 15:53 IST

कोरोना वायरस (coronavirus) के खिलाफ लड़ाई में तकनीक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है लेकिन जिसकी दुनियाभर में सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है वह है ब्लूटूथ. 30 मार्च को दिल्ली स्थित DROR ने अपने ऐप में एक ब्लूटूथ-आधारित सोशल डिस्टेंसिंग ट्रैकर फीचर जारी किया है. DROR अगस्त 2018 से एक्टिव है और महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बनाया गया था. यह आवश्यकता पड़ने पर लोगों को हेल्थकेयर टिप्स भी देता है. अब कोरोना वायरस के दौरान यह एप रोज लोगों का सोशल डिस्टेंसिंग स्कोर बताएगा.

यह ऐप दो यूजर्स के बीच ब्लूटूथ के जरिये दूरी मैंटेन करने को कहता है. ऐप मशीन लर्निंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस-आधारित एल्गोरिदम के आधार पर इस जानकारी को देता है. यह यूजर्स को रियल टाइम में उनके सोशल डिस्टेंसिंग स्कोर की जानकारी देता है.


कैसे जानकारी देता है ऐप 

ऐप तब अलर्ट भेजता है जब आप दूसरे लोगों के ज्यादा करीब जाते हैं. यह आपको वह सचेत भी करता हैं. यह केवल तभी काम करता है जब उपयोगकर्ता का ब्लूटूथ ऑन हो. इसके फाउंडर्स का कहना है कि इस तरह की तकनीक से लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग में बड़ी सफलता मिल सकती है.

कोरोना वायरस से बचने के लिए दुनियाभर सोशल डिस्टेंसिंग पर ध्यान दिया जा रहा है. पीएम मोदी कई बार लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने को कह चुके हैं.  एक रिपोर्ट के अनुसार इसके को- फाउंडर धीरज नौहबर कहते हैं "यह ऐप आपके मूवमेंट को ट्रैक नहीं करता है. हालांकि यह आपके मैक पते को सेव करता है और यह बताता है कि आप कितने अलग-अलग डिवाइसों के करीब है''.

उन्होंने कहा हम इस डेटा को किसी थर्ड पार्टी के साथ साझा नहीं कर रहे हैं, लेकिन यदि सरकार हमारे लिए इस तरह से संपर्क करती है, तो यह एक निर्णय है जिसे हम ऐप के उपयोगकर्ताओं के साथ साझा करेंगे." DROR केवल Android यूजर्स के लिए काम करेगा. यह जल्द ही आईओएस पर आने वाला है.

Whatsapp पर 15 सेकेंड से ज्यादा का वीडियो शेयर करने पर रोक, HD Video क्वालिटी पर लगा बैन

First published: 6 April 2020, 15:41 IST
 
अगली कहानी