Home » साइंस-टेक » #Docoss X1: How 2 months old Jaipur's company will be able to deliver Rs. 888 smartphone?
 

#Docoss X1: दो माह पुरानी कंपनी कैसे देगी 888 रुपये का स्मार्टफोन?

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 27 April 2016, 19:52 IST

अभी दुनिया के सबसे सस्ते फ्रीडम 251 स्मार्टफोन का विवाद शांत भी नहीं हुआ था कि बुधवार को जयपुर की एक कंपनी ने 888 रुपये में एक स्मार्टफोन #Docoss X1 लॉन्च कर दिया. आगामी 2 मई से कैश ऑन डिलीवरी के रूप में उपलब्ध होने वाला यह स्मार्टफोन क्या वाकई ग्राहकों को मिलेगा? बड़ी बात है कि केवल 1 माह और 23 दिन पुरानी कंपनी कैसे इतना सस्ता मोबाइल फोन देगी?

#Freedom251: इस सस्ते के पीछे कोई झोल है, जांच की अपील

दरअसल, बुधवार को जयपुर की डोकॉस मल्टीमीडिया प्राइवेट लिमिटेड नामक एक कंपनी ने अपनी वेबसाइट http://docoss.co या http://docoss.com के जरिये 888 रुपये में डोकॉस एक्स-1 नामक एक स्मार्टफोन को लॉन्च किया. बताया जा रहा है कि बुधवार सुबह 6 बजे से इस स्मार्टफोन की बुकिंग शुरू कर दी गई जोकि 29 अप्रैल की रात 10 बजे तक खुली रहेगी. इसके बाद 2 मई से इसकी डिलीवरी शुरू कर दी जाएगी.

Docoss X1 im.jpg

इस स्मार्टफोन की खासियतों में 4 इंच की आईपीएस स्क्रीन,ड्युअल सिम, एंड्रॉइड 4.4 किटकैट ऑपरेटिंग सिस्टम, 1.3 गीगाहर्ट्ज ड्युअल कोर कॉर्टेक्स प्रोसेसर, 1 जीबी रैम, 4 जीबी इंटर्नल मेमोरी, माइक्रोएसडी कार्ड से 32 जीबी एक्सपैंडेबल, 1300 एमएएच लिथियम बैटरी, 2 मेगापिक्सल प्राइमरी और 0.3 मेगापिक्सल फ्रंट कैमरा है. इसमें 3जी, वाईफाई की भी सुविधा है. फोन के साथ एक साल की वारंटी भी दी जा रही है.

क्यों करें इस पर शक

इससे पहले फ्रीडम 251 मोबाइल की लॉन्चिंग के दौरान कंपनी के अस्तित्व, फोन की कीमत, निर्माण, डिलीवरी, गुणवत्ता समेत अन्य बातों पर तमाम विवादों सामने आ गए थे.  

#Freedom251: कंपनी ग्राहकों को वापस लौटा रही है बुकिंग राशि

अब डोकॉस का भी मामला कुछ ठीक नजर नहीं आ रहा. कैच ने इस स्मार्टफोन के संबंध में जरूरी तहकीकात की. आप भी जानिए क्या कहते हैं कंपनी के दस्तावेज.

27 अप्रैल यानी आज ही वेबसाइट हुई रजिस्टर

docossdotcom whois ip result.jpg

https://whois.net

https://whois.net/ प्राप्त जानकारी के मुताबिक आपको पता चलेगा कि http://docoss.co और http://docoss.com को बुधवार यानी 27 अप्रैल की ही सुबह गोडैडी से रजिस्टर करवाया गया है. 

docossdotcom whois ip result1.jpg

https://whois.net

यानी मोबाइल की लॉन्चिंग के दिन ही इसे ऑर्डर करने वाली वेबसाइट अपने अस्तित्व में आई. वेबसाइट से जुड़ी जानकारी के लिए https://whois.net/ का दुनिया भर में प्रयोग किया जाता है.

1 माह 23 दिन पुरानी है कंपनी

docossdot mmpl detail.jpg

https://www.zaubacorp.com

सामान्यता कोई भी कंपनी अपने अस्तित्व में आने के साथ ही वेबसाइट बनवा लेती है. कंपनियों के बारे में जानकारी देने वाली वेबसाइट https://www.zaubacorp.com की मानें तो डोकॉस मल्टीमीडिया प्राइवेट लिमिटेड 4 मार्च 2016 को अस्तित्व में आई.

docossdot mmpl detail1.jpg

इसका रजिस्ट्रेशन नंबर 49500 जबकि सीआईएन U32107RJ2016PTC049500 है. यह रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज जयपुर के अंतर्गत पंजीकृत है. 

docossdot mmpl detail2.jpg

कंपनी द्वारा इलेक्ट्रॉनिक वॉल्व्स एंड ट्यूब्स के अलावा अन्य इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेंट्स बनाने की गतिविधियों में संलग्न होने की बात विभाग को बताई गई है. कंपनी का अथोराइज्ड कैपिटल 1 करोड़ रुपये और पेड अप कैपिटल 10 लाख रुपये है. कंपनी के निदेशकों का नाम शशि कांत शर्मा और जीतेश कुमार खोवल है. 

कुछ ही घंटों में बंद हुई वेबसाइट

unable to open docoss x1.jpeg

27 अप्रैल को रजिस्टर, स्टार्ट और बुकिंग स्टार्ट करने वाली कंपनी की वेबसाइट http://docoss.co और http://docoss.com कुछ ही घंटों बाद दोपहर में बंद हो गई. जिसके बाद बताया जा रहा है कि ग्राहकों को दो फोन नंबर देकर अपना नाम, पता और पिन कोड एसएमएस करने के लिए कहा गया. इसके जरिये कैश ऑन डिलीवरी के 99 रुपये अतिरिक्त चुकाने की बात कही जा रही है.

अब वेबसाइट के शुरू होते ही क्रैश या बंद हो जाने का मामला समझ में नहीं आया. क्योंकि इस वेबसाइट का कोई इतिहास नहीं है ऐसे में इस पर पहले ही दिन कितना ट्रैफिक आ गया बता पाना मुश्किल है. 

जयपुर के रेस्टोरेंट का दिया फोन नंबर

Docoss X2 phone number.jpg

कंपनी कितनी बड़ी है या छोटी इसकी जानकारी तो नहीं मिली. लेकिन डोकॉस द्वारा अपनी वेबसाइट पर जो फोन नंबर 0141-4106444 और 9166909111 के साथ अन्य दिए गए हैं, ये दरअसल यो चाइना रेस्टोरेंट, 1 फ्लोर, खंडेलवाल मैंसन, राजमंदिर सिनेमा के पास, पांच बत्ती के हैं. 

docoss address1.jpg

कोई भी यूजर चाहे तो इन फोन नंबरों का वेरिफिकेशन http://yo-china.com या google.com पर कर सकते हैं. अब एक कंपनी रेस्टोरेंट का नंबर देकर क्यों अपनी कंपनी और वेबसाइट रजिस्टर करवा रही है, वही जाने.

docoss address.jpg
First published: 27 April 2016, 19:52 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी