Home » साइंस-टेक » Facebook testing new job feature to take on LinkedIn, will provide job seekers & providers a single plateform
 

अच्छी जॉब चाहिए तो लिंक्डइन नहीं फेसबुक पर समय बिताइए

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 November 2016, 18:24 IST

दुनिया के नंबर एक सोशल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म फेसबुक को अब प्रोफेशनल नेटवर्किंग का अड्डा बनाने की दिशा में काम शुरू हो गया है. रोजाना 100 करोड़ से ज्यादा लोगों द्वारा दुनिया भर में इस्तेमाल किए जाने वाले फेसबुक की अगली योजना लिंक्डइन जैसे प्लेटफॉर्म को पीछे छोड़ने की है.

यानी अब फेसबुक यूजर्स को एक ही प्लेटफॉर्म के जरिये अपने सगे-संबंधियों, मित्रों के अपडेट्स मिलने के साथ ही नौकरी देने वालों के विज्ञापन, नई नौकरी की सूचना और सीधे आवेदन करने की सुविधा मिल जाएगी. 

सीधे शब्दों में कहें तो आने वाले वक्त में जब आप फेसबुक पर कुछ कर रहे होंगे तो लोग आपको टाइम वेस्ट करने वाले की बजाय नौकरी ढूंढ़ रहा है, जैसे कमेंट भी देे सकते हैं.

स्मार्टफोन खरीदने जा रहे हैं तो ध्यान रखें यह 7 बातें

अब फेसबुक ने रोजगार की दिशा में अगला कदम बढ़ा दिया है. रॉयटर्स द्वारा जारी सूचना के मुताबिक फेसबुक एक ऐसे फीचर की टेस्टिंग कर रही है. 

इसके जरिये पेज एडमिनिस्ट्रेटर्स अब जॉब पोस्टिंग करने के साथ ही उम्मीदवारों के एप्लीकेशंस भी प्राप्त कर सकेंगे. जाहिर है लिंक्डइन जैसी वेबसाइट को इस आसान प्लेटफॉर्म की इस सुविधा से कड़ी प्रतिस्पर्धा मिल सकती है.

फेसबुक के प्रवक्ता ने समाचार एजेंसी को बताया, "फेसबुक पर देखे व्यवहार जिनमें तमाम छोटे उद्योग अपने पेज पर रोजगार की जानकारी पोस्ट करते हैं, के बाद हमनें एक पेज शुरू किया जो विभिन्न पेजों के एडमिन के लिए है. इससे वे अपने यहां मौजूद नए रोजगार की सूचना देने के साथ ही उम्मीदवारों के आवेदन भी सीधे मंगा सकते हैं." 

पेटीएम खोलेगी अपना बैंक और देगी एफडी से भी ज्यादा 14.50 फीसदी ब्याज

सबसे पहले इस खबर को प्रकाशित करने वाली तकनीकी वेबसाइट टेकक्रंच के मुताबिक हालांकि अभी तक यह तय नहीं हो सका है कि फेसबुक इस फीचर को दुनिया के किस हिस्से में टेस्ट कर रही है. 

जाहिर है कि फेसबुक के इस नए जॉब फीचर से कंपनियों के पेज पर काफी यूजर्स आएंगे. संभवता फेसबुक इसकेे एवज में कंपनियों से कुछ शुल्क वसूल सकता है.

गौरतलब है कि लिंक्डइन की अधिकांश आय नौकरी की तलाश करने वालों और नौकरी प्रदाताओं से होती है जो इसे मासिक या सालाना शुल्क अदा करते हैं. 

एटीएम में देश की सबसे बड़ी सेंधः जानिए अपने कार्ड सुरक्षित रखने का आसान तरीका

बता दें इससे पहले अक्तूबर में फेसबुक ने मार्केटप्लेस नाम का फीचर जोड़ा था जिसके जरिये यूजर्स को स्थानीय स्तर पर सामान खरीदने-बेचने की सुविधा दी गई थी. इसके पीछे फेसबुक का मसकद एक ही प्लेटफॉर्म पर यूजर्स को तमाम सेवाएं मुहैया कराना था. 

First published: 8 November 2016, 18:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी