Home » साइंस-टेक » Europe, French, Court, Free Basics, Net Neutrality, Internet, Data charge, TRAI, Facebook,data transfer, US, Harbor Pact
 

फ्रांस सरकार ने दिया फेसबुक को तीन माह का नोटिस

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 February 2016, 19:04 IST

बिना सहमति के नॉन यूजर्स की वेब एक्टिविटी की ट्रैकिंग को रोकने के लिए फ्रेंच डाटा प्रोटेक्शन अथॉरिटी ने सोमवार को फेसबुक को तीन माह का वक्त दिया है. साथ ही यह भी आदेश दिया है कि वो पर्सनल डाटा को अमेरिका भेजना बंद करे.

बीते वर्ष यूरोपीय अदालत द्वारा बनाए गए डाटा ट्रांसफर संबंधी कानून के बाद से किसी कंपनी के खिलाफ की गई यह पहली महत्वपूर्ण कार्रवाई है, जिसमें किसी कंपनी को यूरोपीय डाटा के अमेरिका भेजने पर रोक लगाई गई है.

गौरतलब है कि अमेरिकी सरकार द्वारा की जा रही जासूसी के बाद बीते वर्ष ट्रांस अटलांटिक सेफ हार्बर पैक्ट को गैरकानूनी घोषित कर दिया गया था. इसके बाद फ्रांसीसी डाटा संरक्षण प्राधिकरण ने कंपनियों को डाटा ट्रांसफर के लिए वैकल्पिक कानूनी बंदोबश्द करने के लिए तीन माह की मोहलत दी है. 

पढ़ेंः फेसबुक के फ्री बेसिक्स को झटका: ट्राई ने किया नेट न्यूट्रैलिटी का समर्थन

फ्रेंच डाटा प्रोटेक्शन अथॉरिटी ने एक बयान में कहा, "सेफ हार्बर के आधार पर फेसबुक पर्सनल डाटा को अमेरिका भेजता था. यूरोपीय संघ की न्यायिक अदालत नेे 6 अक्तूबर 2015 को दिए अपने निर्णय में इस तरह के डाटा ट्रांसफर को अवैध करार दे दिया."

फेसबुक ने पहले कहा था कि डाटा को अमेरिका भेजने के लिए वह सेफ हार्बर का इस्तेमाल नहीं करता है और यूरोपीय कानून के अनुसार वैकल्पिक कानूनी ढांचे से यह प्रक्रिया पूरी करता है.

बीते सप्ताह अमेरिका और यूरोप सेफ हार्बर को बदलने के लिए एक नई संधि पर सहमत हो गए हैं लेकिन यह अभी तक सक्रिय नहीं हुई है. वहीं, यूरोपीय डाटा प्रोटेक्शन अथॉरिटी का कहना है कि ट्रांसअटलांटिक डाटा ट्रांसफर को रोकना चाहिए, यह सोचने के लिए उन्हें और वक्त चाहिए.

यूरोपीय अथॉरिटी ने कहा था कि फेसबुक नॉन यूजर्स की ट्रैकिंग के लिए बिना बताए उनके ब्राउजर पर कुकी डाल देता है. इतना ही नहीं फेसबुक इन कुकीज के जरिये जानकारी जुटाता है और फिर बिना यूजर्स की सहमति के इनका इस्तेमाल विज्ञापन के लिए करता है. 

गौरतलब है कि बीते वर्ष बेल्जियम नियामकों द्वारा अदालत में मामला ले जाए जाने पर फेसबुक को नॉन यूजर्स की ट्रैकिंग पर रोक लगानी पड़ी थी.

पढ़ेंः भारत के फैसले से निराश लेकिन हार नहीं मानूंगा: मार्क जुकरबर्ग

First published: 9 February 2016, 19:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी