Home » साइंस-टेक » Google is planning to improve security with two-step authentication protocols
 

अब आसान नहीं होगा Google का लॉगिन

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 September 2017, 19:35 IST

बीते दिनों हुए ढेरों साइबर अटैक और हैकिंग की घटनाओं को देखते हुए दुनिया की दिग्गज तकनीकी कंपनी Google अपने यूजर्स को ज्यादा सिक्योरिटी देने की योजना बना रहा है. यूजर अकाउंट्स को ज्यादा सुरक्षित बनाने के लिए Google अब टू-स्टेप ऑथेंटिकेशन (दो चरण का सत्यापन) सिक्योरिटी फीचर शुरू करने वाला है.

Boolmerg की रिपोर्ट के मुताबिक Google की मातृ संस्था Alphabet Inc इसके लिए एंडवांस्ड प्रोटेक्शन प्रोग्राम नाम से सुरक्षा कार्यक्रम पेश कर रही है. इस प्रोग्राम का मकसद गूगल ड्राइव और ईमेल में थर्ड पार्टी एक्सेस को ब्लॉक करना होगा.

इस सिक्योरिटी प्रोग्राम के लिए संभवता Google एक Physical USB Security Key के इस्तेमाल को भी जरूरी बना सकता है, जो इस सिक्योरिटी सूट का हिस्सा होगा.

उम्मीद जताई जा रही है कि यह सिक्योरिटी प्रोग्राम कॉरपोरेट एग्जीक्यूटिव्स, राजनेताओं और मशहूर हस्तियों के लिए बनाया जाए, क्योंकि ऐसे ही लोगों पर साइबर हमले की सबसे ज्यादा संभावना होती है. यह प्रोग्राम रोजाना के हिसाब से ईमेल और डाटा की सुरक्षा करेगा.

गौरतलब है कि सबसे ताजा साइबर अटैक हिलेरी क्लिंटन के चुनाव अभियान प्रमुख जॉन पॉडेस्टा पर 2016 में हुआ था. इसमें हैकर्स ने पॉडेस्टा की 60 हजार से ज्यादा ईमेल को हैक कर सार्वजनिक कर दिया था.

ब्लूमबर्ग के मुताबिक, इस नए सिक्योरिटी प्रोग्राम को लेकर फिलहाल गूगल ने कोई भी प्रतिक्रिया देने से साफ इनकार कर दिया.

बताया जा रहा है कि गूगल के दो स्तरीय सत्यापन टूल में पासवर्ड के साथ यूजर का फोन नंबर शामिल होगा. इस फोन नंबर में यूजर को वेरिफिकेशन के लिए कोड भेजा जाएगा.

First published: 30 September 2017, 19:35 IST
 
अगली कहानी